उद्धव ठाकरे ने कहा, वायरस का प्रकोप अभी बढ़ेगा लेकिन घबराने की जरूरत नहीं

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि पहले ही कोरोना से बुरी तरह से प्रभावित राज्य में इस वायरस का प्रकोप आने वाले दिनों में और बढ़ेगा। इसे लेकर घबराने की जरूरत नहीं है। सभी को इस लड़ाई के लिए तैयार रहना होगा। इसके लिए सरकार हर हद तक काम करने को तैयार है।
सीएम उद्धव ठाकरे ने रविवार को जनता को संबोधित करते हुए कहा, ‘लॉकडाउन में अभी भी तमाम लोग नियम का पालन नहीं कर रहे हैं। पहले कहा गया था की मई के अंत तक महाराष्ट्र में डेढ़ लाख तक कोरोना के मरीज हो सकते हैं। ऐसी चेतावनी दी गई थी लेकिन हम इसे काबू कर पाए और इतना नहीं बढ़ने नहीं दिया। सभी लोग कोरोना से डटकर मुकाबला कर रहे हैं। आने वाले दिनों में कोरोना के और भी मरीज बढ़ेंगे लेकिन डरने की जरूरत नहीं है।’
ईद की अपील दे कहा, घर से मांगें दुआ
इससे पहले उन्होंने ईद पर्व की बधाई देते हुए कहा, ‘मैं सभी को ईद की मुबारक बाद देता हूं। लोग ईद घर में ही रहकर मनाए ऐसी अपील सभी से कर रहा हूं और घर से ही सभी के लिए दुआ करें। होली के बाद से सभी त्योहार हमने बड़े ही अच्छे से मनाया है। ईद के दिन लोग सड़कों पर न निकलें। जल्द से जल्द कोरोना खत्म हो इसके लिए सभी मुस्लिम भाई दुआ मांगें। इसके साथ ही दुआ करें कि हम जल्द से जल्द कोरोना लड़ाई जीत लें।’
उन्होंने कहा, ‘एक सही बात बता रहा हूं कि कोरोना का प्रभाव अब तेजी से बढ़ेगा। आने वाले दिनों में और भी मामले बढ़ेंगे। इसे लेकर घबराने की जरूरत नही है। सभी को इस लड़ाई के लिए तैयार रहना होगा। कोरोना का यह संकट मार्च से शुरू हुआ। अब हम देख रहे हैं इसकी संख्या बढ़ रही है। हमें क्यों लोगों से अंतर रखना है इसे लेकर लगातार आप सभी को जानकारी दी जा रही है। कोरोना के साथ कैसे जिएं ये सभी को बताया गया है। मास्क के साथ साथ बताए गए सभी नियम का पालन करें।’
‘रक्तदान की अपील, बारिश में रहें सावधान’
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘इस महीने के अंत तक मुंबई में 14 हजार बेड उपलब्ध हो जाएंगे। आज 7000 बेड उपलब्ध हैं। फील्ड हॉस्पिटल हम खोल रहे हैं इसमें अधिक से अधिक सभी सुविधा दे रहे हैं। महाराष्ट्र में ब्लड की जरूरत है। मैं सभी से अपील कर रहा हूं कि लोग अधिक से अधिक संख्या में रक्तदान करें। आने वाले समय में बारिश आने वाली है। इस समय में और अधिक ध्यान रखने की जरूरत है। और इस वक्त भारी संख्या में कई बीमारियां होती हैं, ऐसे में आप लोग तुरंत डॉक्टर को दिखाएं।’
‘हमने कभी नहीं चाहा मजदूर चलें जाएं’
मजदूरों के पलायन पर उद्धव ने कहा, ‘मजदूरों को हमने कभी नहीं कहा कि चले जाओ। वे खुद जाने लगे। हम नहीं चाहते थे कि प्रवासी जाएं लेकिन रुके नहीं इसलिए केंद्र से ट्रेन की मांग की ताकि उनके घर उन्हें पहुंचा सकें। आज तक 481 ट्रेनों से 7 लाख तक मजदूरों को उनके घर छोड़ा है। अब तक 85 करोड़ इस पर खर्च किया गया है। सही समय पर ट्रेन से भेजे जाने की सुविधा की परमिशन नहीं मिली वरना ये पहले भी जा सकते थी। रेलवे का अब तक पैसा केंद्र सरकार से नहीं आया है, जो प्रवासियों को दूसरे राज्यों तक भेजने में खर्च हुआ है।’
‘अभी नहीं हटा सकते हैं लॉकडाउन’
उद्धव ने कहा कि अगले 15 दिन काफी महत्वपूर्ण हैं। हम अभी लॉकडाउन नहीं हटा सकते हैं। विमान सेवा भी जरूरी है लेकिन अभी हमें इसके लिए समय चाहिए। महाराष्ट्र में अभी तक कोरोना के 47 हजार से अधिक केस सामने आए हैं। 13 हजार से अधिक मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। अभी राज्य में 33 हजार 786 एक्टिव केस हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *