उद्धव ठाकरे कर रहे हैं ‘वर्क फ्रॉम होम’, शरद पवार ने की आलोचना

मुंबई। ऐसे वक्त में जब सभी राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्री कोरोना संक्रमण के खतरे के बीच लगातार लोगों से मेल-जोल बढ़ा रहे हैं तब महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ‘वर्क फ्रॉम होम’ कर रहे हैं।
ठाकरे के इस ‘सेल्फ क्वारंटीन’ स्टाइल की आलोचना विपक्षी बीजेपी के साथ ही सहयोगी एनसीपी के चीफ शरद पवार भी कर रहे हैं, जो खुद अधिक उम्र से जुड़े खतरे के बावजूद लोगों के बीच जा रहे हैं।
उद्धव ठाकरे हद से हद मंत्रालय (सचिवालय) जा रहे हैं और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कैबिनेट बैठक में शामिल हो रहे हैं। अधिकारियों के साथ वन-टू-वन बैठक या तो मातोश्री (ठाकरे निवास) में हो रही है या फिर दादर में मेयर के बंग्ले पर, जिसे दिवंगत बाल ठाकरे के मेमोरियल के तौर पर नामित कर दिया गया है।
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अपने घर से बाहर कदम नहीं रखने और राज्य का दौरा नहीं करने को लेकर काफी आलोचना हो रही है। उद्धव का कुछ साल पहले एंजियोप्लास्टी का ऑपरेशन हुआ था और उनके शरीर में 8 स्टेंस पड़े हुए हैं। शिवसेना ने बताया है कि उद्धव Covid प्रोटोकॉल के तहत कार्य कर रहे हैं।
NCP चीफ शरद पवार दे चुके हैं सलाह
जुलाई में एक मराठी चैनल को दिए इंटरव्यू में शरद पवार ने कहा था, ‘उद्धव ठाकरे राज्य के मुखिया हैं और कोरोना काल में एक जगह बैठकर स्थिति पर निगरानी रख रहे हैं। हालांकि इसका यह मतलब नहीं है कि कोई परमानेंटली ऐसा करे। बीच में उन्हें राज्य का दौरा कर लोगों से मुलाकात करनी चाहिए। लोगों को भरोसे में लेना चाहिए लेकिन ऐसा होना अभी बाकी है।’
फड़णवीस अभी विदर्भ का कर रहे हैं दौरा
शरद पवार के बयान के बाद उद्धव ने राज्य में कुछ जगहों का दौरा किया था। वहीं विदर्भ से आने वाले कांग्रेस नेता आशीष देशमुख ने उद्धव को बाढ़ प्रभावित इलाकों के हवाई सर्वे की सलाह दी थी। पूर्व सीएम और विपक्षी नेता देवेंद्र फड़णवीस इस वक्त विदर्भ का दौरा कर रहे हैं।
बीजेपी नेता प्रवीण दारेकर ने बुधवार को उद्धव की आलोचना करते हुए कहा, ‘महाराष्ट्र के इतिहास में उद्धव ठाकरे सबसे ज्यादा घर में रहने वाले सीएम हैं। उन्हें ऐसे मुख्यमंत्री के तौर पर याद किया जाएगा जो घर से बाहर नहीं निकला और लोगों के साथ किसी भी तरह का संपर्क नहीं बनाया।’
बचाव के लिए राउत ने दिया PM मोदी का उदाहरण
हालांकि शिवसेना सांसद संजय राउत ने उद्धव का बचाव करते हुए कहा, ‘इस समय उद्धव और पीएम नरेंद्र मोदी दोनों ही एक तरह से काम कर रहे हैं। उद्धव के राजनीतिक प्रतिद्वंदियों को यह पता होना चाहिए कि प्रधानमंत्री और गृहमंत्री दिल्ली में ही बैठकर काम कर रहे हैं। सभी मुख्यमंत्री एक ही तरीके से काम कर रहे हैं।’
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *