अमरीकी ख़ुफ़िया अधिकारियों का दावा, लादेन के बेटे हमज़ा की भी मौत

अमरीकी ख़ुफ़िया अधिकारियों के मुताबिक़ अल क़ायदा के संस्थापक ओसामा बिन लादेन के बेटे हमज़ा बिन लादेन की मौत हो गई है.
हालांकि हमज़ा की मौत कब और कहाँ हुई है, ये फ़िलहाल स्पष्ट नहीं है.
इस साल फ़रवरी में अमरीका की सरकार ने हमज़ा का पता बताने वाले को 10 लाख यूएस डॉलर देने की घोषणा की थी.
माना जाता है कि हमज़ा बिन लादेन की उम्र 30 साल थी. हमज़ा ने अमरीका और अन्य देशों पर हमला करने की अपील करने वाले ऑडियो और वीडियो संदेश जारी किए थे.
हमज़ा के मारे जाने की ख़बर पहले एनबीसी और न्यूयॉर्क टाइम्स ने छापी थी.
अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप और व्हाइट हाउस के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने इस मुद्दे पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया.
हमज़ा बिन लादेन ने अपने पिता की हत्या के लिए बदला लेने की भी अपील की थी. मई 2011 में अमरीकी स्पेशल फ़ोर्स की कार्यवाही में ओसामा बिन लादेन की मौत हो गई थी.
हमज़ा ने अरब के लोगों से भी विद्रोह की अपील की थी. इस साल मार्च में सऊदी अरब ने हमज़ा की नागरिकता समाप्त कर दी थी.
हमज़ा के बारे में बहुत कम जानकारी मौजूद
ये भी माना जाता है कि हमज़ा ईरान में नज़रबंद था, लेकिन कुछ रिपोर्टों में ये भी कहा गया था कि वो शायद अफ़ग़ानिस्तान, पाकिस्तान या सीरिया में कहीं रहता था.
अमरीकी विदेश मंत्रालय का कहना है कि पाकिस्तान के ऐबटाबाद में जब दस्तावेज़ ज़ब्त किए गए थे, उनसे पता चलता था कि हमज़ा को अल क़ायदा का नेतृत्व संभालने के लिए तैयार किया जा रहा था.
अमरीकी सेना को कथित तौर पर एक वीडियो भी मिला था, जो हमज़ा की शादी का था. ये भी दावा किया गया कि हमज़ा की शादी अल क़ायदा के एक अन्य सीनियर नेता की बेटी से ईरान में हुई थी.
हमज़ा का नया ससुर अब्दुल्लाह अहमद अब्दुल्लाह या अबु मोहम्मद अल मासरी तंज़ानिया और कीनिया में अमरीकी दूतावासों पर हुए हमलों में दोषी ठहराया गया था. ये हमले 1998 में हुए थे.
अमरीका में 11 सितंबर 2001 को हुए हमले के लिए अल क़ायदा को ज़िम्मेदार माना जाता है.
हमज़ा की उम्र के बारे में कोई भी पुष्ट जानकारी अमरीकी अधिकारी को नहीं मिल पाई, इससे ये पता चलता है कि हमज़ा बिन लादेन के बारे में कितनी कम जानकारी है.
हाल के महीनों में कभी कहा गया कि हमज़ा अफ़ग़ानिस्तान में हैं, तो कभी कहा गया कि पाकिस्तान या ईरान में हैं. लेकिन अमरीकी अधिकारी कभी भी दावे के साथ नहीं कह पाए कि अमरीका के मोस्ट वांटेड लोगों में से एक आख़िर कहाँ हैं.
दस लाख की ईनामी राशि ये भी साबित करती है कि हमज़ा को कितना ख़तरनाक माना जाता है.
-BBC

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *