समाज सेवियों ने रक्तदान कर बचाई बच्चे की जान

मथुरा। दिल्ली के अपोलो हॉस्पिटल से इलाज करवा कर मथुरा लौटे बच्चे की तब‍ियत ज्यादा खराब होने पर ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जन जागरूकता समिति के दो पदाध‍िकार‍ियों ने रक्तदान कर जान बचाई।

घटना के अनुसार नया नगला डैंपियर नगर निवासी इकबाल खान के 4 वर्षीय पुत्र की तबीयत पिछले महीने जून से ही खराब चल रही थी। कल ही इस अबोध बालक को द‍िल्ली के अपोलो हॉस्प‍िटल से द‍िखाकर वापस ला रहे थे क‍ि मथुरा पहुंचने पर बच्चे की तबीयत बहुत खराब हो गई। बच्चे को तुरंत मथुरा के अशोक हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया। डॉक्टर ने चेक किया तो बताया कि इस बच्चे का हीमोग्लोबिन बहुत कम है। साथ ही प्लेटलेट्स 45000 रह गई है इस कारण इस बच्चे को ब्लड बी पॉजिटिव ( A + ) किसी डोनर के द्वारा ताजा ब्लड तुरंत दिया जाना है। बच्चे के पिता का A+ ग्रुप भी यही है लेकिन डॉक्टरों ने यह कहते हुए मना किया आपने पिछले महीने ही खून दिया है इसलिए आप नहीं दे सकते हैं।

बच्चे के पिता ने अपने परिवार के सदस्यों के साथ मिलने वालों का ब्लड टेस्ट करवाया तो किसी का भी इस ग्रुप का ब्लड नहीं निकला। इसके पश्चात बच्चे के पिता इकबाल खान ने ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जन जागरूकता समिति के प्रदेश अध्यक्ष विनोद दीक्षित से रात 11:00 बजे संपर्क किया। उन्होंने बताया मेरे बच्चे की तबियत बहुत ज्यादा खराब है। मुझे तुरंत एक ब्लड डोनर की आवश्यकता है जिसका का ब्लड ए बी पॉजिटिव A+ हो।

इसके पश्चात प्रदेश अध्यक्ष विनोद दीक्षित ने रात में ही अपनी टीम के लोगों से संपर्क किया तो टीम से प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज शर्मा उर्फ बॉबी प्रदेश सचिव महिला प्रकोष्ठ श्रीमती प्रेमलता चौधरी एबी पॉजिटिव ( A+ ) दो डोनर मिल गए। रात में ही दोनों लोगों ने लाइफ केयर चैरिटेबल ब्लड बैंक नेशनल हाईवे 2 मथुरा में पहुंचकर अपना टेस्ट करवाया। ब्लड बैंक के निदेशक बृजेश शर्मा के निर्देशन में प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज शर्मा ने अपना रक्त दिया जिससे अबोध बच्चे की जान बचाई जा सके।

खून देने के उपरांत प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज शर्मा ने कहा कि रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं है आज मुझे खुशी है कि मैं किसी छोटे बच्चे की जिंदगी बचाने के लिए अपना रक्त दिया है। आज जरूरत पड़ने पर एक बार फिर उसी बच्चे के लिए एबी पॉजिटिव ( A+) का ब्लड पत्रकार मोहित चतुर्वेदी ने दान किया।

संस्था के प्रदेश अध्यक्ष विनोद दीक्षित ने कहा हमारी टीम लगातार समाज के लिए प्रेरणा का स्रोत बनी हुई है। हफ्ते में दो लोगों की जिंदगी बचाने के लिए हमारी टीम के लोगों ने कोरोना महामारी में भी अपना रक्तदान करके लोगों की जिंदगी बचाने का काम किया है। महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती श्वेता शर्मा ने कहा क‍ि हमारी टीम लॉकडाउन में लगातार काम कर रही है। आज उसी के अंतर्गत हमारे पति मनोज शर्मा के द्वारा एक छोटे बच्चे की जान बचाने के लिए अपना रक्तदान किया गया है।

इस अवसर पर प्रदेश सचिव प्रेमलता चौधरी, मीडिया प्रभारी हेमंत अग्रवाल, पीयूष चौधरी, ब्लड बैंक के सीनियर लैब टेक्नीशियन अमित कुमार, धर्मेंद्र कुमार आदि लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *