कश्मीर घाटी में दो और युवकों ने छोड़ा Terrorism का रास्ता

श्रीनगर। कश्मीर घाटी में Terrorism का रास्ता पकड़ चुके दो और युवकों ने परिवार के लोगों की अपील के बाद अपने घरों को लौट आये हैं जबकि कई अन्य आतंकवादियों ने भी हिंसा छोड़ने की मंशा जतायी है।

पुलिस महानिदेशक एस पी वैद्य ने आज यहां बताया कि आतंकवादियों के साथ जुड़ चुके दो लड़के वापस अपने घर लौट चुके हैं। डॉ. वैद्य ने दोनों युवकों की घर वापसी का स्वागत करते हुए ट्विटर पर कहा, ‘आतंकवादी बन चुके दो और लड़के हिंसा का रास्ता छोड़ घर वापस लौट आए। घर वापसी का स्वागत।’

फुटबॉल खिलाड़ी से आतंकवादी बने माजिद खान के हिंसा छोड़ घर वापस लौटने की घटना के बाद से Terrorism छोड़ मुख्यधारा में शामिल होने की होड़ सी लगी हुई है। माजिद ने सोशल मीडिया पर अपने अभिभावकों, रिश्तेदारों, दोस्तों और अन्य की अपील आने के बाद घर लौटने का फैसला किया।

सेना, पुलिस और केंद्रीय सुरक्षा बल के उच्चाधिकारियों ने संयुक्त रुप से घोषणा की है कि मुठभेड़ के दौरान आत्मसमर्पण करने वाले आतंकवादी के साथ भी किसी प्रकार की ज्यादती नहीं की जाएगी और समर्पण करने वाले सभी आतंकवादियों को Terrorism  छोड़कर सामान्य तथा शांतिपूर्ण जीवन जीने में सहायता की जाएगी। – एजेंसी