घर के आंगन की खुदाई में मिले दो दर्जन सैन्‍य मेडल्‍स

गुवाहाटी। असम के उदलगुड़ी से एक परिवार के आंगन की खुदाई में सैनिकों के 24 मेडल्स मिले हैं। परिवार को इन मेडल्स के बारे में कोई जानकारी नहीं है। ऐसे में पुलिस ने इतिहास एवं पुरातत्व विभाग के अधिकारियों को ये मेडल्स सौंप दिए हैं, जहां इनके संरक्षण के इंतजाम किए जा रहे हैं।
भूटान की सीमा पर असम के उदलगुड़ी इलाके में भारतीय सौनिकों के 24 मेडल्स बरामद किए गए हैं। ये मेडल्स 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के बताए जा रहे हैं। बरामद किए गए इन मेडल्स में पश्चिमी स्टार्स मेडल और संग्राम मेडल शामिल हैं। इतिहास और पुरातत्व विभाग की डायरेक्टर इंचार्ज अनीता चौधरी ने बताया कि ये मेडल्स शुक्रवार को उन्हें स्थानीय पुलिस ने हैंडओवर किए हैं। उन्होंने कहा कि सभी 24 मेडल्स बहुत कीमती हैं और भारत सरकार द्वारा आजादी के बाद सैनिकों को सम्मान के बतौर दिए गए लगते हैं।
आंगन की खुदाई के वक्त मिले मेडल्स
पुलिस ने बताया कि रोवता इलाके में एक परिवार को आंगन में खुदाई करते वक्त ये मेडल्स मिले थे। यह परिवार कुछ साल पहले ही इस जगह पर शिफ्ट हुआ है। परिवार को भी इन मेडल्स के बारे में कोई जानकारी नहीं है। उन्होंने बताया कि विभाग टेक्निकल एक्सपर्ट्स की मदद से मेडल्स की सफाई और उसे संरक्षित करने का इंतजाम करने में लगा है। रोवता थाने के अधिकारियों ने बताया कि बीती 17 फरवरी को सूरज अली के घर से तांबे और चांदी के मेडल्स बरामद किए गए थे। सूरज का बेटा सैफुल घर के आंगन में जमीन की खुदाई कर रहा था तब उसे ये वहां मिले थे।
किसी स्थानीय ने नहीं पेश किया दावा
चौधरी ने बताया कि सभी मेडल्स को इकट्ठा करके एक प्लास्टिक बैग में लपेटकर रखा गया है। उन्होंने बताया कि अभी तक स्थानीय लोगों में से किसी ने इन मेडल्स पर अपना दावा पेश नहीं किया है। ऐसे में यह माना जा रहा है कि ये मेडल्स चोरी किए गए होंगे। उन्होंने आगे कहा, ‘फिर भी हम सैनिक बोर्ड को इस बात से अवगत कराने वाले हैं ताकि इन मेडल्स को इनके सही हकदार तक पहुंचाया जा सके।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »