टीवी ऐक्टर करण ओबेरॉय को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

मुंबई। महिला से रेप और अवैध वसूली के आरोप में गिरफ्तार किए गए टीवी ऐक्टर करण ओबेरॉय को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।
बता दें कि एक फैशन डिजाइनर ने करण पर रेप का आरोप लगाया था जिसके बाद मुंबई की ओशिवारा पुलिस ने करण को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया था।
बताया जा रहा है कि यह महिला करण के साथ 2016 से रिलेशनशिप में थीं और करण ने उनसे शादी का वादा करके रेप किया।
पुलिस ने करण के खिलाफ बलात्कार और जबरन वसूली के आरोपों पर रिपोर्ट दर्ज की थी।
पुलिस ने बताया था कि करण पर रेप करने के अलावा रेप का वीडियो बनाने और उस वीडियो के जरिए अवैध वसूली करने का भी आरोप है। पीड़िता ने कहा था कि करण ने उन्हें धमकी दी थी कि अगर वह उनकी मांग नहीं मानती हैं तो वह इस वीडियो को वायरल कर देंगे।
कोर्ट में फूट-फूटकर रोने लगे थे करण
इससे पहले कोर्ट ने करण को 9 मई तक पुलिस हिरासत में भेजा था। करण के खिलाफ यह शिकायत साल 2018 में दर्ज कराई गई थी। इससे पहले सोमवार को अंधेरी कोर्ट में चल रही सुनवाई के दौरान करण ओबेरॉय फूट-फूट कर रोने लगे थे। वहीं दूसरी ओर उनके कई दोस्तों ने उनके सपोर्ट में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। मीडिया से बात करने के लिए इस मौके पर करण की बहन गुरबाणी ओबेरॉय, बेस्ट फ्रेंड पूजा बेदी, बैंड ऑफ बॉयज के मेंबर सुधांशु पांडेय, शेरिन वर्गीश, चैतन्य भोसले और सिद्धार्थ हल्दीपुर मौजूद थे।
पूजा बेदी समेत कई सिलेब्रिटी करण के समर्थन में
इस दौरान सभी ने करण पर लगे आरोपों पर हैरानी जताई थी और कहा कि निजी खुन्नस में उन पर ये आरोप लगाए गए हैं। हमारे सहयोगी चैनल जूम टीवी को दिए गए एक इंटरव्यू में पूजा ने कहा कि करण बेहद अच्छे इंसान हैं और उनकी जानकारी में जितने भी लोग हैं उनमें करण सबसे अच्छे व्यवहार वाले व्यक्ति हैं। पूजा ने यह भी कहा कि करण ने साल 2018 में आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ शिकायत की थी जिसके जवाब में महिला ने अक्टूबर 2018 में आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज कराई है। करण ‘जस्सी जैसी कोई नहीं’, ‘साया’ और ‘दिशाएं’ जैसे सीरियल्‍स में काम कर चुके हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »