Colombo में घूम रहे हैं विस्फोटकों से भरे ट्रक और वैन, मीडिया का दावा, अलर्ट जारी

कोलंबो। Colombo में आज श्रीलंका के मीडिया द्वारा सेंट सेबेस्टियन चर्च में धमाका करने वाले फिदायीन का वीडियो जारी किया गया है, इस वीडियो में हमलावर विस्फोटक से भरा बैग लेकर जाता हुआ दिखाई दे रहा है। Colombo के चर्च में दाखिल होने के बाद वह आगे की कतार में बैठ गया। मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि श्रीलंका की राजधानी में विस्फटकों से भरे ट्रक और वैन घूम रहे हैं। Colombo में अलर्ट जारी कर दिया गया है और विस्फोटकों से भरे वाहनों की तलाश की जा रही है।

श्रीलंका में हुए धमाकों की जिम्मेदारी आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) ने ली है। श्रीलंका सरकार ने कहा कि शुरुआती जांच बताती है कि देश में हुए धमाके क्राइस्टचर्च (न्यूजीलैंड) हमले का बदला हैं। मंत्री रूवन विजयवर्धने ने नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) समेत देश के दो इस्लामिक संगठनों को धमाकों के लिए जिम्मेदार बताया था। श्रीलंका में 21 अप्रैल को चर्चों और होटलों में हुए सीरियल धमाकों में 321 लोग मारे गए थे। 22 अप्रैल को एक बस स्टैंड में करीब 87 बम बरामद किए गए थे। क्राइस्टचर्च में 15 मार्च को दो मस्जिदों में हमला हुआ था, जिसमें 50 लोग मारे गए थे।

‘सरकार सुरक्षा में नाकाम रही’
विपक्ष के नेता और पूर्व राष्ट्रपति महिंदा राजपक्षे ने कहा कि सरकार देश की सुरक्षा करने में नाकाम रही है। जब मैंने सत्ता सौंपी थी तो देश आतंकवाद से मुक्त था। मेरी सरकार के दौरान देश में कोई हमला नहीं हुआ। अगर सरकार लोगों की सुरक्षा नहीं कर सकती तो उसे सत्ता में बने रहने का कोई हक नहीं।

2014 में हुई थी एनटीजे की स्थापना
एनटीजे की स्थापना 2014 में श्रीलंका के कट्टनकुंडी क्षेत्र में जहरान हाशिम उर्फ अबु उबैदा ने की थी। यह पूर्वी श्रीलंका का मुस्लिम बाहुल्य इलाका है। माना जा रहा है कि जिस आत्मघाती हमलावर ने शांगरी ला होटल को निशाना बनाया, वह जहरान ही था।

अब तक 40 संदिग्ध गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक, इस मामले में अब तक 40 संदिग्धाें को गिरफ्तार किया जा चुका है। रविवार देर रात पुलिस को कोलंबो एयरपोर्ट के पास छह फीट लंबा पाइप बम मिला। इसे एयरफोर्स ने डिफ्यूज कर दिया।

स्थानीय स्तर पर बना था बम

एयरफोर्स के प्रवक्ता ग्रुप कैप्टन गिहान सेनेविरत्ने ने बताया कि एयरपोर्ट पर मिला आईईडी स्थानीय स्तर पर बना था। बम के मिलने के बाद एयरपोर्ट जाने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। श्रीलंका की एयरलाइन कंपनियों ने भी कड़ी सुरक्षा जांच के चलते यात्रियों को फ्लाइट के उड़ान भरने से चार घंटे पहले एयरपोर्ट पहुंचने के निर्देश जारी कर दिए।

कोलंबो में हुआ था पहला धमाका
पहला धमाका कोलंबो के कोच्चिकड़े स्थित सेंट एंथनी चर्च में हुआ, इसके बाद नेगोंबो के कटुवपिटिया स्थित सेंट सेबेस्टियन चर्च और बट्टीकलोआ स्थित चर्च में धमाके हुए। इनके अलावा कोलंबो के फाइव स्टार होटलों शांगरी ला, किंग्सबरी और सिनेमन ग्रैंड में भी ब्लास्ट हुए। आठ में से शुरुआती छह धमाके लगभग एक ही समय पर सुबह 8:45 बजे हुए। बाकी दो धमाके दोपहर में दो से ढाई बजे के बीच कोलंबो में हुए।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »