एप बैन करने से परेशान चीन ने अब भारत को दी अंतर्राष्‍ट्रीय कानूनों की दुहाई

नई दिल्‍ली। 59 चीनी एप पर बैन लगाने की सख्‍त भारतीय कार्यवाही से चीन घबरा गया है और इस पर दुख जताते हुए स्थिति पर नजर रखने की बात करने लगा है। अभी तक गलवान में हेकड़ी दिखा रहे चीन भारत के इस एक्शन के बाद अब अंतर्राष्ट्रीय कानूनों की दुहाई देने लगा है। गौरतलब है कि लद्दाख में सख्ती से चीन के साथ पेश आ रहे भारत ने अब उसे सामरिक के साथ आर्थिक मोर्चे पर घेरते हुए देश में 59 चीनी एप पर बैन लगा दिया है और गूगल को अपने प्ले स्टोर से उस सभी ऐप को हटाने का आदेश भी दे दिया है।
भारत के एक्शन बाद चीन को हुई चिंता
चीन के विदेश मंत्री के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने भारत के चीनी एप्स पर बैन पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘चीन को काफी चिंता है और वह स्थिति की समीक्षा कर रहा है।’
बता दें कि दोनों देशों के बीच लद्दाख में एक महीने से ज्यादा वक्त से तनाव चल रहा है। गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ संघर्ष में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे जबकि चीन के 40 जवान मारे गए थे।
ड्रैगन को अब याद आया अंतर्राष्ट्रीय कानून
उन्होंने कहा, ‘हम कहना चाहते हैं कि चीनी सरकार हमेशा से अपने कारोबारियों को अंतर्राष्ट्रीय और स्थानीय नियमों को पालन करने को कहती रही है। भारत सरकार को चीनी समेत सभी अंतर्राष्ट्रीय निवेशकों के कानूनी अधिकारों की रक्षा करने की जिम्मेदारी है।’
भारत ने कल 59 ऐप पर लगाया था बैन
बता दें कि भारत सरकार ने सोमवार को 50 से ज्यादा चाइनीज एप्स को बैन करने का बड़ा फैसला लिया था। बैन किए गए एप्स की लिस्ट में ढेरों पॉप्युलर ऐप्स शामिल हैं और TikTok, UC Browser और ShareIt जैसे नाम हैं। एप्स को बैन किए जाने की वजह इनका चाइनीज होना ही नहीं है, बल्कि देश की सुरक्षा और एकता को बनाए रखने के लिए जरूरी कदम मानते हुए ऐसा किया गया है। करीब 59 एप्स को जल्द ही गूगल प्ले स्टोर और ऐपल एप स्टोर से हटा दिया जाएगा।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *