मुंबई में आफत की बारिश जारी, मौसम विभाग का अलर्ट

मुंबई में एक बार फिर भारी बारिश ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी हैं। मंगलवार रात से शुरू हुई मूसलाधार बारिश बुधवार सुबह भी जारी है, जिसके कारण शहर के कई इलाकों में पानी भर गया। इस बीच मौसम विभाग ने अगले दो दिन के लिए भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। बारिश के कारण कुछ जगहों पर हादसों की खबर भी है। अंधेरी में बुधवार तड़के कम दृश्यता के कारण तीन गाड़ियां आपस में भिड़ गईं। इस घटना में 8 लोग घायल हो गए।
मंगलवार रात से जारी तेज बारिश से हिंदमाता इलाके में जलभराव हो गया। लोगों को घुटनों तक पानी से गुजरकर जाना पड़ रहा है। वहीं, बुधवार सुबह को भी तेज बारिश जारी है। सायन में सड़कों पर तो पानी भरा ही है, रेलवे ट्रेक भी पानी में डूब गए हैं। इस बीच भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मुंबई में भारी बारिश की चेतावनी जारी करते हुए मंगलवार को कहा कि चक्रवात की स्थिति के कारण शहर में अगले दो दिन भारी बारिश होगी।
70355841 चक्रवात की स्थिति, भारी बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि मुंबई की तुलना में महाराष्ट्र के रायगढ़ और रत्नागिरी जिलों में छिटपुट जगहों पर बुधवार और बृहस्पतिवार को अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।
मौसम विभाग का कहना है, ‘मुंबई के पास चक्रवात की स्थिति बन रही है, जिससे शहर में भारी बारिश होगी। शहर में बीते दो-तीन दिनों में कहीं बारिश नहीं हुई लेकिन हालात बदल रहे हैं। आने वाले दिनों में और अधिक बारिश होगी।’
3 गाड़ियां भिड़ीं
भारी बारिश के कारण विजिबिलटी पर काफी असर पड़ा है जिस कारण यातायात बाधित है। अंधेरी में बुधवार तड़के इसी कारण तीन गाड़ियां आपस में भिड़ गईं। घटना में 8 लोग घायल हो गए।
जुलाई में हुई भारी बारिश
मुंबई में 8 जुलाई की रात तक जुलाई की औसत बारिश का 84% हिस्सा बरस चुका था। जुलाई में औसतन 840 मिमी बारिश होती है जबकि 8 जुलाई तक 708.7 मिमी बारिश हो चुकी थी। जून से अब तक की बात की जाए तो 2,272 मिमी के औसत के मुकाबले 1,315.7 मिमी यानी 57% बारिश हुई।
शहर में सालाना औसतन 2,515 मिमी बारिश का 52% हिस्सा बरस चुका है। इस साल ठाणे में जुलाई के पहले हफ्ते के बाद कुल 1,340 मिलीमीटर बारिश हुई थी। पिछले साल इस अवधि में कुल 1,814 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई थी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *