अमरनाथ विद्या आश्रम में विद्यार्थी ले रहे swimming का प्रशिक्षण

मथुरा। अमरनाथ विद्या आश्रम में विद्यार्थियों को अंतर्राष्ट्रीय swimming मानकों के आधार पर swimming का प्रशिक्षण प्रदान किया जा रहा है। विद्यालय में स्थित मां चन्द्रावती वाजपेयी तरणताल में प्रेप-1 से लेकर कक्षा 12 के विद्यार्थी तरणताल में राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय तैराक बनने की चाह में जहां तैराकी का प्रशिक्षण ले रहे हैं, वहीं सभी बच्चे गर्मियों के मौसम में समुन्द्र के बीच की तरह भरपूर लुफ्त ले रहे हैं।

संस्था की शाखा ग्रोइंग सोल किड्ज गुरूकुल व श्री अरविन्द छात्रावास के विद्यार्थी भी नियमित रूप से तरणताल का आनन्द उठा रहे हैं । सभी बच्चों में तैराकी सीखने को लेकर गजब का उत्साह देखने को मिल रहा है।

इस अवसर पर विद्यार्थियों के विभिन्न वर्गो की तैराकी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसके पहले चरण में हर्ष आनन्द, मुकुन्द चैधरी व अमन खान क्रमश प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे । दूसरे चरण में आयुष्मान, देव पाण्डेय, युवराज सिंह क्रमश प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे । तीसरे चरण में देवराज, दक्ष, कृष्णा सिंह व कबीर शर्मा क्रमश प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहे । बालिकाओं की तैराकी प्रतियोगिता में इरफा खानम, धनुप्रिया तथा अनन्या क्रमश प्रथम, द्वितीय व तृतीय रहीं।

अमर नाथ विद्या आश्रम के प्रधानाचार्य डा. अरुण वाजपेयी ने तैराकी प्रतियोगिता में विजयी सभी विद्यार्थियों को शुभकामना देते हुये बताया कि तैराकी सभी के लिये एक आवश्यक एवं पूर्ण व्यायाम तो है ही साथ ही जीवन को जीने की एक अनूठी कला भी है। उन्होंने बताया कि विद्यालय के सभी बच्चों को तरणताल में तैराकी का प्रशिक्षण कुशल व प्रशिक्षित प्रशिक्षकों द्वारा ही दिलाया जा रहा है। विद्यालय के तरणताल में जीवन रक्षक सभी उपकरण पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। तरणताल का पानी भी मानकों के अनुरूप पूर्ण रूप से तैराकी के लिये शुद्ध रहता है।

उन्होंने बताया कि तरणताल के पानी को निरन्तर साफ करने के लिये उच्चकोटि का फिल्टर प्लांट लगा हुआ है। जब तक कोई भी बालक या तैराक तरणताल में होता है तो वहां पर हर समय सुरक्षा गार्ड व प्रशिक्षक मौजूद रहते हैं तथा मैडिकल जांच के बाद ही बच्चों को तरणताल में प्रवेश की अनुमति दी जाती है। उन्होंने बताया कि लड़के व लड़कियों के लिये तरणताल का समय अलग-अलग रखा गया है तथा लड़कियों के लिये महिला प्रशिक्षक की व्यवस्था विशेष रूप से की गई है।

उन्होंने बताया कि तैराकी प्रशिक्षण के उपरांत विद्यार्थियों के लिये शीघ्र ही उच्च स्तरीय तैराकी प्रतियोगिता की व्यवस्था की जायेगी, जिसमें विजयी विद्यार्थियों को पुरस्कृत भी किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »