आज रात हो जाएगा MMISF का समापन

मुंबई। तीन दिवसीय महोत्सव MMISF का समापन आज रात हो जाएगा, इसकी शुरुआत 19 अक्टूबर 2018 शुक्रवार से हुई थी, आज 21 अक्टूबर रात तक इसका समापन हो जाएगा ।

नवरात्री महोत्सव के भव्य आयोजन के उपरांत शुरू हुआ MMISF (my mumbai international short film festival) का भव्य आयोजन इस वर्ष जुहू तट पर स्थित मालिनी किशोर संघवी महाविद्यालय के शांतिप्रभा सभागृह में हुआ।

पूरे विश्‍व भर से आए लघु चलचित्र रचयिताओं ने अपनी मौजूदगी की पुष्टि की है। इस महोत्सव में जिसका आयोजन यूनिवर्सल मराठी एवं ऋतंभरा विष्व विद्यापीठ के मालिनी किशोर संघवी महाविद्यालय ने किया है। इस तीन दिवसीय मोहत्सव MMISF का आकर्षण मुख्य रूप से उन मुद्ददो से जुड़े कार्यक्रम थे जो भूतकाल वर्तमान काल एवं भविष्य से जुडी किसी भी प्रकार की परेशानियों को चलचित्र के माध्यम से दर्शाएंगे। इस वर्ष इस मोहत्सव में कई प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे है।

उदाहरण के तौर पे चलचित्रों की परदे पर पेशकश , पैनल चर्चा, विशेषाग्यो की सलाह, चलचित्र विशेषज्ञ, एवं कई मशहूर निर्देशक एवं उत्पादकों के साथ चर्चा। इस समाहरोह का विभाजन 7 मुख्या श्रेणियों में किया गया है। जान जागरूकता , अंतर्राष्ट्रीय लघु चलचित्र, एनिमेशन चलचित्र, उपन्यास चलचित्र, विज्ञापन चलचित्र, संगीत चलचित्र, वृत्तचित्र। इन चलचित्रों का मुख्य उद्देश्य उन समस्याओं को दर्शन है जिनका सामना आम आदमिबके द्वारा अपने दिन प्रति दिन की दिनचर्या में किया जाता है और साथ ही लघु चलचित्रों को बढ़ावा देना खास तौर से मुम्बई जैसे विविध शहरों में। इस वर्ष 83 देशों से 1500 से भी ज़्यादा प्रतिभागियों ने इस मोहत्सव में आवेदन किया है।

इस मोहत्सव के प्रति लोगो की प्रतिकिरया बहुत ही सकारात्मक रही है। 19 अक्टूबर को open minds की सहायता से एक कार्यशाला का आयोजन भी किया जाएगा जिसमे तेजस्वनी पटवर्धन द्वारा कलाकारों का मार्गदर्शन किया जाएगा । साथ ही प्रभात चित्रमंडल के सहयोग से 20 अक्टूबर सायं 5 बजे लघु चलचित्र उत्पादन एवं आर्थिक लाभ पर चर्चा भी की जाएगी। इस कार्यक्रम में खास तौर पर आमंत्रित विशेषग्यो एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पे विजेता लघु चलचित्र रचयिताओं द्वारा कलाकारों का मार्गदर्शन किया जाएगा।

अंतिमदिवस पर flixmates की मदद से तकनिकी विषयों एवं सुविधाओं के बेहतर इस्तेमाल पर चर्चा की जाएगी। पुरस्कार वितरण की शाम को हिंदी एवं मराठी कलाकारों पर खास गौर किया जाएगा । सभी विजेताओं को पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। यूनिवर्सल मराठी के सदस्यों के साथ मालिनी किशोर संघवी महाविद्यालय के BMM के छात्रों ने इस मोहत्सव के आयोजन एवं निष्पादन में एक ऐहेम भूमिका निभाई है। हर श्रेणी में एक “सर्वश्रेष्ठ लघु चलचित्र” एवं “सर्वश्रेष्ठ तकनिकी इस्तेमाल” को भी पुरस्कृत किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »