आज का रीडर ही भविष्य का लीडर होगाः प्रो. के. एलेंगो

मथुरा। इक्कीसवीं सदी में हर क्षेत्र की तरह शिक्षा के क्षेत्र में भी व्यापक बदलाव हो रहे हैं। इन बदलावों की जानकारी युवा पीढ़ी को होना नितांत आवश्यक है। यह तभी सम्भव है जब हमारी युवा पीढ़ी पठन-पाठन की तरफ अपना ध्यान केन्द्रित करेगी। सच कहें तो आज का रीडर ही भविष्य का लीडर होगा यह उद्गार गुरुवार, एक अप्रैल को इंग्लिश लैंग्वेज टीचर एसोसिएशन ऑफ इंडिया (ELTAI) के सचिव प्रो. के. एलेंगो ने वेबिनार के माध्यम से जी.एल. बजाज ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस, मथुरा के रीडिंग क्लब से जुड़े छात्र-छात्राओं को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए।

प्रो. के. एलेंगो ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी को भावनात्मक, रचनात्मक तथा संज्ञानात्मक कौशल में दक्ष होना नितांत आवश्यक है। यह तभी सम्भव है जब हम छात्र-छात्राओं को पढ़ाई की तरफ प्रेरित कर सकें। वेबिनार में प्रो. पी.एन. रमनी ने कहा कि परिवर्तन के इस दौर में जरूरी है कि हम युवा पीढ़ी के भटकाव को नियंत्रित करें तथा उन्हें पढ़ने के लिए उचित माहौल मुहैया कराएं। इस वेबिनार में शिक्षा से जुड़े भारत सहित मोरक्को, तजाकिस्तान, पाकिस्तान तथा एजिप्ट के 627 लोगों ने प्रतिभागिता की। अंतरराष्ट्रीय वेबिनार में जी.एल. बजाज की प्राध्यापक प्रो. हरलीन कौर द्वारा एसक्यू3आर तकनीक पर बनाई गई वीडियो को भी लांच किया गया। डॉ. हरिथा और डॉ. उज्जला ताते ने छात्र-छात्राओं को पढ़ने की अलग-अलग विधाओं की विस्तार से जानकारी दी। पूर्व प्रोफेसर इफ्लू, हैदराबाद डॉ. एस. मोहन राज ने प्रतिभागियों द्वारा पूछे गए विभिन्न सवालों के जवाब दिए।

ज्ञातव्य है कि जी.एल. बजाज ग्रुप ऑफ इंस्टीटूशन्स व इंग्लिश लैंग्वेज टीचर एसोसिएशन ऑफ इंडिया के मध्य दिसम्बर, 2020 में एक अनुबंध पर हस्ताक्षर हुए थे। इस अनुबंध के तहत जी.एल. बजाज संस्थान में छात्र-छात्राओं द्वारा सर्वसुविधायुक्त रीडिंग क्लब की स्थापना की गई है। वेबिनार में संस्थान के डीन स्टूडेंट वेलफेयर और जी.एल. बजाज एल्टाई रीडिंग क्लब के कोआर्डिनेटर प्रो. श्रवण कुमार ने इंग्लिश लैंग्वेज टीचर एसोसिएशन ऑफ इंडिया के सचिव प्रो. के. एलेंगो और प्रो. पी.एन. रमनी को संस्थान के रीडिंग क्लब की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जी.एल. बजाज ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस, मथुरा युवा पीढ़ी के सम्पूर्ण व्यक्तित्व विकास को प्रतिबद्ध है।

वेबिनार में संस्थान की निदेशक प्रो. नीता अवस्थी ने कहा कि हमारा प्रयास रहेगा कि यहां के छात्र-छात्राएं अपनी सम्पूर्ण पढ़ाई के दौरान कम से कम 100 विभिन्न विधाओं की पुस्तकों का अध्ययन जरूर कर लें। आर.के. एज्यूकेशन हब के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल, उपाध्यक्ष पंकज अग्रवाल तथा प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने आयोजन की प्रशंसा की और कहा कि आर.के. एज्यूकेशन हब अपने हर शैक्षिक संस्थान में बेहतर से बेहतर शिक्षा का माहौल बनाने को प्रतिबद्ध है।
– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *