प्राकृतिक संसाधनों का सही इस्तेमाल जरूरीः कुलाधिपति सचिन गुप्ता

मथुरा। आज दुनिया हर पल परिवर्तन के दौर से गुजर रही है लिहाजा युवा पीढ़ी को न केवल अपनी सोच में परिवर्तन लाना चाहिए बल्कि कुछ नया भी करना चाहिए। सौर ऊर्जा आज हर उद्यम के लिए जरूरी है। हम अपने घरों को न केवल सौर ऊर्जा से रोशन कर सकते हैं बल्कि बिजली की समस्या से भी निजात पा सकते हैं। आज हम प्राकृतिक संसाधनों के सही इस्तेमाल से ही अपने राष्ट्र का विकास कर सकते हैं। उक्त सारगर्भित उद्गार मुख्य अतिथि और कुलाधिपति सचिन गुप्ता ने भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय के टी.डी.सी. (पी.पी.डी.सी.) आगरा द्वारा संस्कृति यूनिवर्सिटी परिसर में आयोजित दो दिवसीय उद्यम समागम, सोलर टेक्नोलाजी एवं नेशनल वर्कशाप के शुभारम्भ अवसर पर छात्र-छात्राओं और उद्यमियों को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। ट्रेड फेयर का शुभारम्भ कुलाधिपति सचिन गुप्ता, प्रिंसिपल डायरेक्टर पी.पी.डी.सी. आगरा आर. पन्नीरसेल्वम, कुलपति डा. राणा सिंह, ओ.एस.डी. मीनाक्षी शर्मा द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया।

श्री गुप्ता ने उद्यम समागम को जनहित और छात्रहित के लिए मील का पत्थर निरूपित करते हुए युवा पीढ़ी का आह्वान किया कि वह समय की जरूरत को समझते हुए अपने आपको तैयार करे। प्रिंसिपल डायरेक्टर पी.पी.डी.सी. आगरा आर. पन्नीरसेल्वम ने उद्यमियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि दुनिया बदलाव के दौर से गुजर रही है। आने वाले समय में डीजल और पेट्रोल की समस्या पैदा होने से इंकार नहीं किया जा सकता, ऐसे में सौर ऊर्जा का इस्तेमाल करना निहायत जरूरी है। श्री पन्नीरसेल्वम ने कहा कि पी.पी.डी.सी. आगरा और संस्कृति यूनिवर्सिटी संयुक्त रूप से लेटेस्ट टेक्निक पर काम कर रहे हैं। आने वाले समय में हम छात्र-छात्राओं को जहां बदलते समय के अनुसार तैयार करेंगे वहीं ब्रज के किसानों को आधुनिक खेती-किसानी के तरीकों के साथ उन्हें स्वयं के उद्यम स्थापित करने को भी प्रेरित किया जाएगा।

स्वागत भाषण देते हुए कुलपति डा. राणा सिंह ने सौर ऊर्जा के महत्व पर विस्तार से प्रकाश डाला एवं ब्रांच मैनेजर एन.एस.एस.एच. आगरा पुष्पेन्द्र सूर्यवंशी ने युवाओं का आह्वान किया कि वह नौकरी के पीछे भागने की बजाय स्वयं के उद्योग खोलकर न केवल आत्मनिर्भर बनें बल्कि राष्ट्र के विकास में अपना अमूल्य योगदान दें। दो दिवसीय ट्रेड फेयर के स्टालों में सोलर ऊर्जा, फूड उद्योग, बेकरी के उत्पाद ब्रेड, बिस्किट, अचार मुरब्बा, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण बनाने, कम्पोनेंट उत्पादन, प्रसाधन सामग्री जैसे उद्यमों एवं उत्पादों को प्रदर्शित किया गया। आभार असिस्टेंट डायरेक्टर एमएसएमई, टी.डी.सी. (पी.पी.डी.सी.) राजकुमार ने माना। कार्यक्रम का संचालन डा. सलोनी श्रीवास्तव ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *