बेहद खास है भारतीय क्रिकेट के लिए आज दिन

भारतीय क्रिकेट के लिए आज दिन बेहद खास है। 14 साल पहले दक्षिण अफ्रीका में 24 सितंबर 2007 को भारतीय टीम ने महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में टी20 वर्ल्ड कप अपने नाम किया था।
भारत की ‘यंगिस्तान’ ने फाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को हराकर पहली बार आयोजित इस टी20 वर्ल्ड कप को अपने नाम किया।
सबसे बड़ी बात यह थी कि इस टूर्नामेंट में सचिन तेंडुलकर, राहुल द्रविड़ जैसे दिग्गज नहीं खेले थे और युवा टीम ने ट्रॉफी जीती थी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने इस ऐतिहासिक पल को याद करते हुए अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो अपलोड किया है। बीसीसीआई ने लिखा 2007 में आज ही के दिन टीम इंडिया ने इतिहास रचा और पहली आईसीसी वर्ल्ड टी20 ट्रॉफी उठाई।
भारत ने 5 विकेट पर 157 रन बनाए थे
खिताबी मुकाबले में टीम इंडिया ने ओपनर गौतम गंभीर (75) की शानदार पारी की बदौलत 20 ओवर में 5 विकेट पर 157 रन बनाए। रोहित शर्मा 16 गेंदों पर 30 रन बनाकर नाबाद लौटे। 158 के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तानी टीम 19.3 ओवर में 152 के स्कोर पर ढेर हो गई थी। इरफान पठान मैन ऑफ द मैच रहे, जिन्होंने 4 ओवर में 16 रन देकर 3 विकेट झटके।
अंतिम ओवर का रोमांच
जोहानिसबर्ग में पाकिस्तान के खिलाफ टी20 वर्ल्ड कप का फाइनल मैच बेहद ही रोमांचक रहा था और भारत ने अंतिम ओवर में जीत दर्ज की थी। शोएब मलिक की अगुआई में खेल रही पाकिस्तानी टीम को आखिरी ओवर में जीत के लिए 13 रनों की दरकार थी और उसका मात्र एक विकेट शेष था।
क्रीज पर मिसबाह उल हक और मोहम्मद आसिफ थे लेकिन गेंदबाज जोगिंदर शर्मा ने मात्र 3 गेंदों में ही मिसबाह को आउट कर 5 रन से जीत दर्ज कर ट्रॉफी अपने नाम कर ली।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *