बोलने का मौका न मिलने पर सदन में रो पड़ीं TMC सांसद

नई दिल्ली। लोकसभा में आज प्रश्नकाल के दौरान सांसदों ने कई महत्वपूर्ण सवाल उठाए। इसके साथ ही आज विपक्ष के हंगामे और भारी विरोध के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिवाला और शोधन संशोधन बिल भी सदन में पेश किया। इस बिल को पेश करने के दौरान मंत्री और विपक्षी सांसदों के बीच तीखी तकरार भी हुई। कांग्रेस ने नागरिकता बिल के विरोध का मुद्दा उठाया। TMC सांसद ने आज स्वाति मालीवाल की भूख हड़ताल का मुद्दा उठाया, बोलने का मौका नहीं मिलने पर वह भावुक होकर रोने भी लगीं।
कांग्रेस और डीएमके का लोकसभा से वॉकआउट
विपक्ष के विरोध और हंगामे के बीच वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिवाला और शोधन संशोधन बिल सदन में पेश किया। इस बिल को पेश करने के दौरान सत्ता पक्ष के सदस्यों और वित्त मंत्री के बीच तकरार भी देखने को मिली। शून्यकाल में सदन में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने नागरिकता संशोधन बिल का मुद्दा उठाया। उन्होंने असम सहित सहित पूर्वोत्तर में हो रही हिंसा का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि कश्मीर की ही तरह अब नॉर्थ ईस्ट की भी स्थिति बनती जा रही है। इस मुद्दे पर कांग्रेस और डीएमके ने सदन से वॉकआउट किया
लोकसभा में छलके TMC सांसद के आंसू
बाद में TMC के सौगत राय ने भी असम मैं विरोध-प्रदर्शन की बात करते हुए गृहमंत्री से वक्तव्य की मांग की। उसके बाद TMC ने सदन से वाकआउट कर दिया। बाद में कांग्रेस व बीजेपी के एक-एक सदस्य ने जब असम से जुड़ा मामला उठाना चाहा तो स्पीकर ने बोलने की इजाजत नहीं दी। TMC सांसद प्रतिमा मंडल ने शून्यकाल में स्वाति मालीवाल की भूख हड़ताल का मामला उठाने की कोशिश की। उन्हें बोलने का मौका नहीं दिया गया। लगभग 15 मिनट तक खुद को 1 मिनट बोलने का मौका देने की गुहार लगाने के बावजूद जब उन्हें सदन में बोलने नहीं दिया गया तो वह रोने लगीं।
चिराग पासवान ने यूथ कमीशन की मांग की
राजीव प्रताप रूडी ने शून्यकाल में तेलंगाना में 2016- 2017 के आई एस अधिकारियों की नियुक्ति न होने का मामला उठाया। उन्होंने इस मामले में केंद्र सरकार से दखल की मांग की। मुलायम सिंह यादव ने सदन में शून्यकाल में मंत्रियों के मौजूद नहीं होने का मामला उठाया। चिराग पासवान ने शून्यकाल में देश में युवाओं का मुद्दा उठाते हुए चाइल्ड कमीशन वुमन कमीशन की तर्ज पर यूथ कमीशन बनाने की मांग की। प्रश्नकाल में रमा देवी ने डीडीए में ड्रोन की तकनीक के इस्तेमाल का मामला वह डीडीए की जमीन पर अनाधिकृत कब्जे का मसला उठाया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *