TMC के गुंडों ने तोड़ी ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति, भाजपा बनवाएगी: पीएम

मऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर को लेकर पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी पर तीखा निशाना साधा। उन्‍होंने कहा कि TMC के गुंडों ने दादागिरी की और महान समाज सुधारक ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ दिया। पीएम मोदी ने ऐलान किया कि बीजेपी सरकार उसी जगह पर पंचधातु की एक भव्‍य मूर्ति बनवाएगी।
उन्‍होंने कहा कि आज पश्चिम बंगाल में उनकी रैलियां होनी हैं, देखते हैं कि दीदी उनकी इन रैलियों को होने देती हैं या नहीं।
यूपी के मऊ में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘TMC के गुंडों की ये दादागीरी परसों रात भी देखने को मिली है। परसों, कोलकाता में भाई अमित शाह के रोड शो के दौरान TMC के गुंडों ने ईश्‍वरचंद्र विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ दिया। ऐसा करने वालों को कठोर से कठोर सजा दी जानी चाहिए। वहीं, मैं ये भी कहना चाहता हूं कि ईश्वरचंद्र विद्यासागर जी के विजन के लिए समर्पित हमारी सरकार, उसी जगह पर पंचधातु की एक भव्य मूर्ति की स्थापना करेगी।’
‘बीजेपी सरकार के मूल में बंगाल की सांस्कृतिक भक्ति’
उन्‍होंने कहा, ‘ईश्वरचंद्र विद्यासागर मात्र बंगाल की ही नहीं, बल्कि भारत की महान विभूति हैं। वह महान समाज सुधारक, शिक्षा शास्त्री ही नहीं, बल्कि गरीबों और दलितों के संरक्षक भी थे। महिलाओं के अधिकारों के लिए उन्होंने उस दौर में आवाज उठाई थी। बीजेपी सरकार के तो मूल में बंगाल की सांस्कृतिक भक्ति है। वेद से विवेकानंद तक, नेताजी सुभाष चंद्र बोस से लेकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी तक, हमारे चिंतन-मनन को बंगाल की ऊर्जा ने ही प्रभावित किया है।’
पीएम मोदी ने मायावती पर भी हमला बोला। उन्‍होंने कहा, ‘बहन जी ने पश्चिम बंगाल को लेकर मुझ पर निशाना साधा है। चुनाव आयोग को भी आड़े हाथों लिया है। मैं तो सोच रहा था कि जिस तरह ममता दीदी वहां पर यूपी-बिहार-पूर्वांचल के लोगों पर निशाना साध रही हैं, उन्हें बाहरी बताकर अपनी राजनीति कर रही हैं, बहन मायावती इस पर ममता दीदी को जरूर खरी-खोटी सुनाएंगी लेकिन ऐसा हुआ नहीं।’
‘दीदी का रवैया देश देख रहा है ‘
मोदी ने कहा, ‘मुझे याद है कुछ महीना पहले जब पश्चिमी मेदिनिपुर में मेरी रैली थी तो किस तरह की अराजकता वहां TMC ने फैलाई थी। इसके बाद ठाकुरनगर में तो ये हालत कर दी गई थी कि मुझे अपना संबोधन बीच में छोड़कर मंच से हट जाना पड़ा था। कुछ दिन पहले कूच बिहार में मेरी रैली के लिए जहां मंच बनना था, वहीं पर दीदी ने अपनी पार्टी का बड़ा सा मंच बनवा दिया था। दीदी का यह रवैया तो मैं बहुत दिन से देख रहा हूं। अब पूरा देश भी देख रहा है।’
पीएम मोदी ने मऊ में कहा, ‘यहां उत्तर प्रदेश में एसपी-बीएसपी ने जाति के आधार पर एक अवसरवादी गठबंधन करने की कोशिश की है। लखनऊ में एसी कमरे में बैठकर ऊपर-ऊपर से तो डील हो गई लेकिन जमीन से कटे हुए ये नेता, अपने कार्यकर्ताओं को ही भूल गए। नतीजा ये कि एसपी और बीएसपी के कार्यकर्ता आज भी एक दूसरे पर हमले कर रहे हैं।’
खिचड़ी सरकार चाहते थे महामिलावटी
उन्‍होंने कहा, ‘देश इन महामिलावटी दलों की सच्चाई पहले दिन से जानता है। देश को पता है कि मोदी हटाओ का नारा तो बहाना था। असल में इन्हें अपने भ्रष्टाचार के पाप को छुपाना था इसलिए ये जैसे-तैसे कोशिश कर रहे थे कि देश में एक खिचड़ी सरकार बन जाए। ये एक मजबूर सरकार चाहते थे, जिसे वह अपनी जरूरत के हिसाब से ब्लैकमेल कर सकें।’
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘इन लोगों ने कुछ जातियों को अपना गुलाम समझ लिया था। 2014 में पहली बार समझाने के बाद, 2017 में दूसरी बार समझाने के बाद अब 2019 में उत्तर प्रदेश इन दलों को थोड़ा ठीक से समझाने जा रहा है कि जातियां आपकी गुलाम नहीं हैं। बुआ हों या बबुआ हों, इन लोगों ने गरीबों से खुद को इतना दूर कर लिया है, अपने आसपास इन लोगों ने पैसे की, वैभव की, बाहुबल की, अपने दरबारियों की इतनी ऊंची दीवार खड़ी कर ली है कि इन्हें गरीबों का सुख-दुःख नजर नहीं आता।’
मोदी ने उठाया तीन तलाक का मुद्दा
उन्‍होंने कहा, ‘एक तरफ आपका ये सेवक देश की बेटियों को सशक्त करने में जुटा है, वहीं ये महामिलावटी वोट के लिए बेटियों का अपमान करते हैं। मुस्लिम बहनों को तीन तलाक के नर्क से मुक्ति दिलाने का बीड़ा भी हमारी सरकार ने उठाया लेकिन इन महामिलावटी लोगों ने मिलकर मुस्लिम बहनों-बेटियों को इंसाफ मिलने में रोड़े अटकाए।
पीएम मोदी ने कहा, ‘सरकार चाहती है कि मुस्लिम महिलाओं को उनकी भावनाओं के मुताबिक उनकी आस्था के दायरे में ही तीन तलाक के खिलाफ आवाज उठाने का अधिकार मिले लेकिन ये महामिलावटी दल, ऐसा भी होने नहीं दे रहे। एसपी-बीएसपी ने यहां से ऐसे उम्मीदवार को टिकट दिया है जो बलात्कार के आरोप में भगोड़ा है। समाजवादी पार्टी का तो इतिहास यूपी के लोग जानते हैं लेकिन बहन जी, क्या आप ऐसे उम्मीदवारों के लिए वोट मांगेगी।’
‘मोदी को गालियां देने में जुटी हैं माया’
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘एसपी के समय यूपी में बेटियों की क्या स्थिति थी, ये सब जानते हैं लेकिन बहन जी, महिला सुरक्षा को लेकर आपका बर्ताव भी अब सवालों के घेरे में है। कुछ दिन पहले राजस्थान के अलवर में एक दलित बेटी के साथ गैंगरेप किया गया था। वहां बहन जी के समर्थन से कांग्रेस की सरकार चल रही है। कांग्रेस की सरकार ने चुनाव को देखते हुए उस दलित बेटी के साथ हुए इस राक्षसी अपराध को छिपाने की कोशिश की। बहन जी सब जानती हैं लेकिन कांग्रेस सरकार से समर्थन वापस लेने के बजाय वह मोदी को गालियां देने में जुटी हैं।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »