पांच साल में किए 3 Strikes, तीसरे मिशन के बारे में नहीं बताऊंगा: राजनाथ सिंह

नई दिल्‍ली। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने कहा कि शनिवार को आश्चर्यजनक दावा करते हुए कहा कि पिछले पांच वर्षों के दौरान भारतीय सुरक्षाबलों की तरफ से 3 Strikes की गई, तीन  बार ‘सीमा-पार’ ऑपरेशन को अंजाम दिया। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, राजनाथ सिंह ने कहा कि सीमापार जाकर आतंकियों के खिलाफ ये strikes किए गए।

एएनआई ने राजनाथ का हवाला दिया है, जिसमें उन्होंने कहा- “पिछले पांच वर्षों के दौरान, हम सफलतापूर्वक सीमा पार जाकर हवाई हमले को अंजाम दिया। मैं इनमें से दो ऑपरेशन के बारे में बताऊंगा लेकिन तीसरे मिशन के बारे में नहीं बताऊंगा।”

केन्द्रीय गृह मंत्री ने कर्नाटक के मेंगलुरू में एक रैली को संबोधित करते हुए यह बयान दिया। उन्होंने उरी हमले के बाद भारतीय सेना के विशेष दल की तरफ से की गई सर्जिकल स्ट्राइक का जिक्र किया। सिंह ने कहा कि दूसरा हवाई हमला जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद 40 सीआरपीएफ जवानों के बाद किया गया।

एक आत्मघाती हमलावर ने 14 फरवरी को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर अर्धसैनिक बलों के काफिले को निशाना बनाकर यह हमला किया था। 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना की तरफ से पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी शिविर पर हमला किया गया। यह जैश-ए-मोहम्मद का सबसे बड़ा आतंकियों को ट्रेनिंग देनेवाला शिविर था। इसी संगठन ने पुलवामा हमले की जिम्मेदारी ली थी।

सितंबर 2016 में आतंकियों ने जम्मू कश्मीर में उरी कैंप को निशाना बनाकर हमला किया था, जिसमें 19 जवान शहीद हो गए थे। इस आतंकी हमले के बाद भारतीय सेना के स्पेशल कमांडो ने नियंत्रण रेखा पार जाकर पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकियों के लाउंच पैड्स नष्ट किए थे।

बालाकोट में हवाई हमला पाकिस्तान के नियंत्रण वाले कश्मीर के बाहर जाकर किया गया। भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वाह प्रांत में उस इलाके को निशाना बनाया।

-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *