तीन कर्मचारी आयोग करेंगे रिक्त पदों पर भर्तियां: डा. जितेन्द्र सिंह

नई द‍िल्ली। केंद्रीय कार्मिक राज्य मंत्री डा. जितेन्द्र सिंह ने बुधवार को लोकसभा में बताया क‍ि पिछले पांच साल में देश के 320 भ्रष्ट अधिकारियों को समय से पहले रिटायर किया गया है। इनमें ग्रुप-ए के 163 और ग्रुप-बी के 157 अधिकारी शामिल थे।

उन्होंने कहा कि इन अफसरों पर जुलाई 2014 से दिसंबर 2019 के बीच अनिवार्य सेवानिवृत्ति दी गई। यह कार्रवाई केंद्रीय सिविल सेवा (पेंशन) नियम और 1972 का अधिनियम 56 (जे) के तहत हुई।

अधिनियम 56 (जे) सरकार को समय-समय पर कर्मचारियों के काम की समीक्षा का अधिकार देता है। इसके तहत अक्षम पाए जाने या भ्रष्ट आचरण होने पर अधिकारी को समय से पहले सेवानिवृत्त किया जा सकता है। इसके लिए तीन महीने का नोटिस या इसके एवज में उतने महीने की तनख्वाह और भत्ते दिए जाते हैं। ये प्रावधान ग्रुप-ए और बी के सरकारी कर्मचारियों पर लागू होते हैं।

केंद्र सरकार के विभागों में 6.83 लाख पद रिक्त: जितेंद्र सिंह

केंद्रीय कार्मिक राज्यमंत्री ने कहा- मौजूदा समय में केंद्र सरकार के अलग-अलग विभागों में 6.83 लाख पद रिक्त हैं। इन विभागों में कर्मचारियों की कुल निर्धारित संख्या 38,02,779 है, जबकि 31,18,956 कर्मचारी सेवा दे रहे हैं। यह पद कर्मचारियों की रिटायरमेंट, इस्तीफा, मौत या उनके प्रमोशन के कारण रिक्त हैं। रिक्त पदों को भरना एक नियमित प्रक्रिया है। इसे मंत्रालयों, विभागों और संस्थानों के नियमों के मुताबिक पूरा किया जाता है।

तीन कर्मचारी आयोग रिक्त पदों पर भर्तियां करेंगे’

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 2019-20 में केंद्रीय लोक सेवा आयोग (यूपीएससी), कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) और रेलवे नियुक्ति बोर्ड (आरआरबी) रिक्त पदों को भरेंगे। आरआरबी सबसे अधिक करीब 1.34 लाख पदों पर भर्ती करेगा। वहीं, एसएससी 13,995 और यूपीएससी 4,399 खाली पदों पर भर्ती करेगा। सभी मंत्रालयों और विभागों को तय वक्त के भीतर खाली पदों को भरने का अनुरोध किया गया है।
– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *