दक्षिण कोरिया में ‘स्पाइ कैमरा’ के खिलाफ हजारों महिलाओं ने किया प्रदर्शन

सोल। दक्षिण कोरिया में बीते शनिवार सड़कों पर हजारों महिलाओं ने प्रदर्शन किया। ये महिलाएं सरकार से ‘स्पाइ कैमरा’ यानी छिपे हुए कैमरा से खींची गई अंतरंग तस्वीरों और वीडियोज पर सख्त ऐक्शन की मांग कर रही हैं। महिलाओं का कहना है कि इसकी वजह से उन्हें लगातार मानसिक प्रताड़ना झेलनी पड़ती है।
पुलिस के मुताबिक, सिर्फ महिलाओं वाले इस प्रदर्शन में करीब 18 हजार प्रदर्शनकारी थे। प्रदर्शनकारी उन पुरुष गुनाहगारों के खिलाफ सख्त जांच और सजा की मांग कर रहे थे जिन्होंने स्पाइ कैमरा से महिलाओं को बिना बताए अंतरंग तस्वीरें या वीडियो बनाने और फिर उसे ऑनलाइन पोस्ट करने का अपराध किया हो।
अधिकतर प्रदर्शनकारियों ने बेसबॉल कैप्स और सर्जिकल मास्क से अपने चेहरे ढके थे। हालांकि, आयोजकों के प्रदर्शन पर सख्त नियंत्रण और बायॉलॉजिकली महिला न होने पर प्रदर्शन में शामिल न होने देने को लेकर काफी आलोचनाओं का भी सामना करना पड़ा।
अधिकतर प्रदर्शनकारियों ने टी-शर्ट पहनी थी जिस पर लिखा था, ‘गुस्साई महिलाएं दुनिया बदल सकती हैं।’ इसके अलावा दो महिलाओं ने अपना सिर भी मुंड़वा लिया। महिलाओं के हाथों में तख्ते थे जिन पर लिखा था, ‘मेरी जिंदगी आपकी पॉर्न नहीं है।’ प्रदर्शनकारियों में अधिकांश 20 से 30 साल के बीच थे।
बता दें कि दक्षिण कोरिया में स्पाइ कैमरा से महिलाओं के निजी अंगों या अंतःवस्त्रों की तस्वीरें लेना एक बड़ी समस्या है। इन फुटेज को गैरकानूनी पॉर्न साइट पर अपलोड कर दिया जाता है। बढ़ती आलोचनाओं के बाद दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेई इन ने अपने अधिकारियों को इस तरह की हरकत करने वालों के खिलाफ सख्त सजा को लेकर सुझाव देने के लिए कहा है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »