Singapore में सोशल डिस्टेंस न मानने पर जेल व लाखों का जुर्माना

सिंगापुर। कोरोना वायरस के कारण सोशल डिस्टेंस को बनाए रखने के लिए लोगों से लगातार अपील की जा रही है, कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच Singapore में एक नया नियम लागू किया गया है। इसके अनुसार एक-दूसरे के पास खड़े होने पर 6 माह की कैद या $7,000 यानी 5 लाख 24 हजार रुपयों का जुर्माना देना होगा।

क्यों पड़ी जुर्माने की जरूरत
लाइलाज कोरोना वायरस से बचने के अलावा फ़िलहाल दुनिया के पास और कोई हल नहीं है। इसी बचाव को देखते हुए दुनियाभर के देशों ने अलग-अलग तरीके अपनाएं हैं। जैसे Singapore हेल्थ मिनस्ट्री ने लोगों के करीब खड़े होने पर सजा और जुर्माने का ऐलान किया है। इस बारे में सिंगापुर हेल्थ मिनस्ट्री ने एक सर्कुलर जारी करते हुए कहा कि कोरोना का असर कम करने और लोगों को उसके संक्रमण से बचाने के लिए सभी पब्लिक प्लेस पर लोगों को आपस में डिस्टेंट मेंटेन करना होगा। सरकार ने लोगों से दूर बैठने और खड़े होने की अपील की है।

नए नियमों के अनुसार
Singapore में घोषित नए नियमों के अनुसार, अगर कोई भी व्यक्ति तीन फीट की दूरी से कम, लोगों के पास खड़ा होगा तो उस पर नए नियमों के आधार पर सजा या जुर्माना लगाया जायेगा। इसके अलावा सिंगापुर हेल्थ मिनस्ट्री ने लोगों के बैठने के लिए निश्चित सीट भी निर्धारित की है जिस पर दूरी के हिसाब से निशान लगा होगा और लोगों को उसी पर बैठना होगा। इसके अलावा सिंगापुर की सरकार ने बार और नाइट क्लबों को भी बंद कर दिया और 10 से अधिक लोगों के एक साथ खड़े रहने पर रोक लगा दी है। साथ ही किसी भी बड़े आयोजन पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है।

लॉकडाउन से बेहतर तरीका
दक्षिण कोरिया की तरह सिंगापुर भी यही मानता है कि लॉकडाउन लगाना जरुरी नहीं। इससे लोगों को आर्थिक नुकसान तो होगा ही साथ ही उनकी जिंदगियां रुक जायेंगी जो उनके अधिकारों के खिलाफ है। इस बारे में सिंगापुर मल्टी मिलिट्री टास्क फोर्स ने स्कूल-कॉलेज, रेस्त्रां या दफ्तर में दो लोगों के बीच कम से कम 1 मीटर की दूरी मेंटेन करने को कहा है। वहीँ अगर अगर कोई भी व्यक्ति अपनी जगह छोड़कर किसी के पास जाता है या 1 मीटर के तय दायरे को क्रॉस करता है तो उसे सजा दिए जाने का ऐलान किया जा चूका है। सिंगापुर में ये नियम फिलहाल 30 अप्रैल तक के लिए लागू किया गया है।

सिंगापुर भी सेकंड स्टेज में
तमाम कोशिशों के बाद भी सिंगापुर में कोरोना वायरस कहर बाकी देशों की तरह ही बना हुआ है। यहां पहला मामला 23 जनवरी को आया था और अब तक यहां 732 केस पॉजिटिव पाए गये हैं। एक रिपोर्ट की माने तो सिंगापुर के आंकड़े किसी दूसरें चीन से सटे देश के मुकाबले काफी कम है।

सिंगापुर ने कोरोना से लड़ने के लिए जल्दी ही प्रयास करना करना शुरू कर दिया था। यहां पर ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच की गई और यहां क्वेरेंटाइन के बेहद कड़े नियम हैं, जिन्हें मानना कानून है। लेकिन फिर भी सिंगापुर कोरोना की दूसरी स्टेज में पहुंच चुका है। ऐसे में सरकार और भी कड़े कदम उठा रही है।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *