इस बार पश्चिम बंगाल की दुर्गा पूजा को स्पॉन्सर करेगा चीन

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की प्रसिद्ध दुर्गा पूजा में इस बार कुछ खास होने वाला है। बंगाल से अपने सांस्कृतिक और व्यापारिक संबंधों को मजबूत करने की कोशिश में कम्युनिस्ट चीन इस बार की दूर्गा पूजा में स्पॉन्सरशिप करने जा रहा है।
गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में हर साल दुर्गा पूजा का भव्य आयोजन होता है, जिसे देखने लोग देश-विदेश से आते हैं।
बीजे ब्लॉक की दुर्गा पूजा के लिए चीन अपने वाणिज्य दूतावास की ओर से फंडिंग कर रहा है। पिछले कुछ सालों से चीनी दूतावास कोलकाता के कल्चर में घुलने-मिलने की कोशिश कर रहा है। पिछले सालों में भी वह कोलकाता पुलिस के साथ मिलकर दुर्गा पूजाओं में इनामों की घोषणा करता रहा है। इस बार उसने एक कदम और बढ़ाया है।
ट्रेनिंग के लिए कलाकार जाएंगे चीन
इस साल बीजे ब्लॉक की पूजा के लिए फंडिंग के साथ-साथ चीनी दूतावास यहां से कुछ कलाकारों को चीनी आर्किटेक्चर के डिजाइन सीखने के लिए चीन भी भेजेगा। इससे चीन की कोशिश है कि इस बार के पंडाल और पूजा में चाइनीज कला का भी समावेश हो और ये पंडाल पगोडा की तरह दिखें। चीन के कुनमिंग में इस स्थानीय कलाकारों ने इस तरह की कला के शानदार नमूने पेश किए हैं।
चीन स्पॉन्सर्ड पूजा मे आने वाले लोगों को चाइनीज बांसुरी, ड्रैगन डांस और एक्रोबेटिक्स कला का आनंद उठाने का मौका मिलेगा, इसके लिए चीन से विशेष कलाकार बुलाए जाएंगे। दूतावास के जनरल मा झानवू ने कहा, ‘कोलकाता की दुर्गा पूजा एक शानदार अनुभव है और यह सब को एकसाथ लाने का द्वार है। हम अपने दूतावास में भी कई धार्मिक आयोजन करते रहते हैं। इस बार हम साल्ट लेक में चाइना उतार देंगे। हमने पिछले साल भी कुछ इनाम बांटे और कुछ लोगों को ट्रेनिंग के लिए चीन भी भेजा था।’
’40 लाख से ज्यादा होगा खर्च’
बीजे ब्लॉक पूजा के सेक्रटरी उमाशंकर घोष दास्तिदार ने कहा, ‘हमें उम्मीद है कि सबकुछ अच्छा है। आने वाले हफ्तों में हम दूतावास के साथ प्लानिंग के लिए कुछ मीटिंग करेंगे और आगे की योजना तैयार करेंगे। हमें उम्मीद है कि इस बार पिछली बार के बजट (40 लाख रुपये) से ज्यादा खर्च भी आएगा।’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »