फरिश्ता बनकर खड़ी हुई अम्बिका विहार की ये सोसायटी

नई दिल्ली। पश्चिम विहार की अम्बिका विहार को-ऑपरेटिव सोसायटी ने इमरजेंसी कोविड केयर सेंटर के जरिए एक अनूठी पहल की है। सोसायटी के भीतर ही बनाये गए इस इमरजेंसी  कोविड केयर सेंटर का उद्घाटन मुख्य अतिथि पश्चिम विहार थानाध्यक्ष कृष्ण वल्लभ झा ने फीता काटकर किया। इस मौके पर थानाध्यक्ष थानाध्यक्ष कृष्ण वल्लभ झा ने कहा कि बीते वर्ष जब से कोविड महामारी देश में आयी तब से अब तक लोकेश मुंजाल और उसकी टीम रोहित कुमार अजय निझावन, अजय जैन, राजकुमार सचदेवा, अरोड़ा जी, रीटा जी ने केवल सोसायटी में ही नहीं अपितू पूरे पश्चिम विहार में सेनेटाइजर, पका हुआ भोजन, सूखा राशन, ऑक्सीजन सिलिंडर समेत ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर मशीन, दवाइयां, मास्क, पीपीई किट आदि के माध्‍यम से निस्वार्थ मानवता की सेवा की है। आज एक बार फिर इन्होने यह इमरजेंसी कोविड केयर सेंटर स्थापित किया है, मैं इस भागीरथी प्रयास को शुभकामनाएं देता हूँ।
इस मौके अम्बिका विहार को-ऑपरेटिव हॉउस बिल्डिंग सोसायटी एवं जी -17 फेडरेशन के अध्यक्ष लोकेश मुंजाल ने मुख्य अतिथि एवं विशिस्ट अतिथियों का पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया। इस मौके पर लोकेश मुंजाल ने इमरजेंसी कोविड केयर सेंटर में दी जा रही सुविधाओं और इसके उद्देश्यों की जानकारी देते हुए कहा कि  कोरोना की दूसरी लहर में काफी पॉजिटिव मामले आ रहे हैं। इसको देखते हुए हमने विचार विमर्श के बाद इस इमरजेंसी कोविड केयर सेंटर बनाने का निर्णय लिया और आप सभी साथियों के सहयोग से डॉ. राकेश श्रीवास्तव की देखरेख में यह 8 बिस्तरों वाला सुविधा संपन्न इमरजेंसी कोविड केयर सेंटर आज हमने शुरू कर दिया है। बेड की संख्या को लोगों का सहयोग मिलेगा तो बढ़ाया भी जा सकता है।

लोकेश मुंजाल ने बताया कि इसका दूसरा उद्देश्य यह भी है कि ऐसे लोग जिनके घरों में होम आइसोलेशन की सुविधा नहीं है, वह सोसायटी में निशुल्क होम आइसोलेशन की सुविधा प्राप्त करेंगे। उन्होंने बताया कि रेजिडेंट को डॉक्टर की जरूरत है तो इसकी व्यवस्था भी की जाएगी। जल्द ही पांच ऑक्सीजन कंस्ट्रेटर मशीन भी हम नागरिकों के सहयोग से लेने जा रहा हैं। हमारा पहला प्रयास है कि हमारी सोसायटी में कोविड पेशेंट को रखकर उनका समुचित इलाज किया जा सके।

उन्होंने जनता से हाथ जोड़कर अपील करते कि आप अपने घरों से तभी निकलें जब बहुत अधिक जरुरी हो क्योंकि कोरोना महामारी ने दुबारा देश को चपेट में ले लिया है इसलिए आप अपने घरों में रहें, जरुरी होने पर ही घर से निकलें, लॉकडाउन नियमों का पालन करें, नाइट कर्फ्यू का पालन करें, दो गज की दूरी बनाकर रखें, मास्क जरूर पहनें, बार बार साबुन से हाथ जरूर धोते रहें अथवा सेनिटज़र से साफ़ करें। हल्का सा भी लक्षण होने पर टेस्ट जरूर कराएं और घर में आइसोलेट होने की कोशिश करें स्वयं भी सुरक्षित रहें और दूसरों को भी सुरक्षित रखें। ” दो गज की दूरी – मास्क है जरुरी – जीवन बचाना है तो नियम अपनाना है।”

र‍िपोर्ट: अशोक कुमार निर्भय, वरिष्ठ पत्रकार

 

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *