मूर्खता के लिए केवल एक ही जगह है, और उसे कांग्रेस कहते हैं: अमित शाह

नई दिल्ली। भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा कि मूर्खता के लिए केवल एक ही जगह है और उसे कांग्रेस कहते हैं।
दरअसल, नक्सल कनेक्शन पर पांच ऐक्टिविस्ट्स को नजरबंद किए जाने के बाद राहुल गांधी ने ट्वीट कर तंज कसते हुए कहा था कि भारत में केवल एक NGO के लिए जगह है और उसे RSS कहते हैं।
राहुल ने कहा था, ‘सभी NGOs को बंद कर दो। सभी ऐक्टिविस्टों को जेल में डाल दीजिए और जो शिकायत करे उसे शूट कर दो।’ अब सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद अमित शाह ने उन्हीं (राहुल) के लहजे में जवाब दिया है।
बीजेपी अध्यक्ष ने ट्वीट किया, ‘भारत के टुकड़े-टुकड़े गैंग, माओवादियों, फेक एक्टिविस्टों और भ्रष्ट लोगों का समर्थन करो। जो ईमानदार हैं और काम कर रहे हैं, उन सभी को बदनाम करो। राहुल गांधी की कांग्रेस का स्वागत है।’
सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की राहुल गांधी की बात: बीजेपी
बीजेपी ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर राहुल गांधी पर हमला बोला। बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले से साफ हो गया है कि नक्सल लिंक में ऐक्टिविस्ट्स की गिरफ्तारी की वजह राजनीतिक असहमति नहीं थी। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी और पूरी कांग्रेस का एक ही मत था कि सरकार से असहमति जताने वालों को गिरफ्तार किया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट ने इस बात को खारिज किया है।
‘राहुल को सिर शर्म से झुका लेना चाहिए’
पात्रा ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का फैसला कांग्रेस पार्टी की हार है। राहुल गांधी को इस फैसले के बाद शर्म से सिर झुका लेना चाहिए। राहुल अपनी राजनीति को परवान चढ़ाने के लिए देश की सुरक्षा को ताक पर रख रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोर्ट ने यह भी साफ किया है कि किसी आरोपी को जांच एजेंसी का चुनाव करने का आधिकार नहीं है, जबकि इस मुद्दे पर अब तक राजनीति हो रही थी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »