वैक्सीन की कोई कमी नहीं, भ्रम फैला रहा है विपक्ष: केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री

नई दिल्‍ली। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने कोरोना वैक्सीन की कमी को लेकर राज्य सरकारों की तरफ से आ रहे बयानों का खंडन किया है। वैक्सीन की कमी वाले विपक्ष के बयान को निरर्थक करार देते हुए उन्होंने कहा कि सिर्फ लोगों में घबराहट पैदा करने के लिए ऐसे बयान दिए जा रहे हैं। उन्होंने एक के बाद कई ट्वीट कर कहा कि वैक्सीन की उपलब्धता के संदर्भ में, तथ्यों के वास्तविक विश्लेषण से इस स्थिति को बेहतर ढंग से समझा जा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों के जरिए वैक्सीनेशन हो सके इसलिए जून महीने में 11.46 करोड़ वैक्सीन की डोज राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को उपलब्ध कराए गए। जुलाई के महीने में इसे बढ़ाकर 13.50 करोड़ किया गया है।
राज्यों को दी गई एडवांस जानकारी
कहा कि जुलाई में राज्यों में वैक्सीन के कितने डोज उपलब्ध कराई जाएगी, इसकी जानकारी केंद्र सरकार ने राज्यों को 19 जून को ही दे दी थी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि राज्यों को यह अच्छी तरह से पता है कि उन्हें कब और कितनी मात्रा में वैक्सीन डोज मिलेंगे। मंडाविया ने कहा कि अगर केंद्र पहले से ही अपनी तरफ से ये जानकारियां एडवांस में दे रही है और इसके बावजूद कुप्रबंधन की वजह से वैक्सीन लेने वालों की लंबी कतारें दिख रही हैं तो यह बिल्कुल स्पष्ट है कि समस्या क्या है और इसकी वजह कौन है।
विपक्ष ने साधा निशाना
दरअसल, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कई राज्यों में कोरोना वैक्सीन की कथित तौर पर कमी से संबंधित एक खबर को शेयर करते हुए ट्वीट किया कि केवल जुमले हैं, वैक्सीन नहीं हैं।
उधर कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने भी ट्वीट किया कि वैक्सीनेशन की दर में 60 प्रतिशत की गिरावट आई है और इस सरकार में ईंधन की कीमतों में 63 गुना की बढ़ोत्तरी हुई है। बीजेपी लोगों के घाव पर नमक रगड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ रही है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *