राजीव एकेडमी फॉर फार्मेसी में वेबिनार का आयोजन

मथुरा। Rajiv Academy for Pharmacy  और क्लाइनी इंडिया के सहयोग से आज संस्थान में एक वेबिनार का आयोजन किया गया है। मुख्य वक्ता विशाल चौधरी ने बताया कि नई दवा की खोज में क्लीनिकल ट्रायल, क्लीनिकल डेटा मैनेजमेंट और मेडिकल राइटिंग में बी. बीफार्मा और एम. फार्मा के छात्र-छात्राओं के लिए उच्च पैकेज पर जॉब की अपार सम्भावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि भारत में फार्मास्युटिकल कम्पनियां रिसर्च के क्षेत्र में लगातार अपनी भागीदारी बढ़ा रही हैं, ऐसे में इस क्षेत्र में करियर बनाने वाले युवाओं को कभी भी जॉब की कमी नहीं होगी।

श्री चौधरी ने बताया कि भारत दवा निर्माण के क्षेत्र में दुनिया में चौथे स्थान पर है। दवा निर्माण उद्योग में क्लीनिकल रिसर्च और फार्माकोविजिलेंस के क्षेत्र में अवसर ही अवसर हैं। उन्होंने छात्र-छात्राओं को बताया कि फार्माकोविजिलेंस के अंतर्गत दवाओं से जुड़ी गुणवत्ता का समाधान किया जाता है। मरीजों पर पड़ रहे दवाओं के असर को पहचानना, उसको मापना, उसकी पुष्टि करना, दवाओं की उपलब्धता, उसका विपणन, प्रयोग आदि फार्माकोविजिलेंस के अंतर्गत ही आते हैं। इन जानकारियों के आधार पर ही दवा कम्पनियां अपनी दवाइयों को और ‍अधिक सुरक्षित और उपयोगी बनाती हैं। युवा पीढ़ी के सामने इस क्षेत्र में करियर के अवसर देश ही नहीं विदेशों में भी हैं। श्री चौधरी ने कहा कि फार्माकोविजिलेंस में करियर बनाने के लिए यह गुण जरूरी है कि आप दवाइयों के मरीजों पर पड़ रहे विपरीत प्रभाव को जान सकें। साथ ही कम्युनिकेशन स्किल भी जरूरी है क्योंकि इसमें मरीजों, चिकित्सकों, दवा विक्रेताओं, मेडिकल कंट्रोल बोर्ड आदि के सम्पर्क में रहना पड़ता है।

संस्थान के निदेशक डॉ. ज्ञानेंद्र कुमार शर्मा ने कहा कि भारतीय फार्मा सेक्टर भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ है। भारतीय फार्मा कम्पनियां लगातार अपने उत्पादों का निर्यात कर भारतीय अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान कर रही हैं। डॉ. शर्मा ने बताया कि यह हमारे देश का दूसरा सबसे तेजी से बढ़ने वाला उद्योग है। डॉ. शर्मा ने छात्र-छात्राओं को इस क्षेत्र में अवसर हासिल करने के तरीके और दवा निर्माता कम्पनियों की एक फ्रेशर से क्या उम्मीदें होती हैं, इस बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि युवा पीढ़ी प्लेसमेंट से पूर्व ऑनलाइन मार्गदर्शन भी प्राप्त कर सकती है। वेबिनार में हिमांशु चोपड़ा, मनीष शाक्य, तालेवर सिंह, सुमन शाह, राहुल कुमार सिंह, मनु शर्मा, विभा, मोनिका सिंह, मोहित अग्रवाल, बृजनन्दन दुबे, अजय शर्मा, सौरभ भारद्वाज, दीक्षा अग्रवाल, अमोल राज, रुतवी अग्रवाल, सुरेन्द्र शर्मा, रक्षा शर्मा, बृजेश कुमार शर्मा आदि शिक्षकगण उपस्थित थे।
– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *