Keto Diet डायट के कई नुकसान भी हैं, फॉलो करने से पहले जान लें

बात वेट लॉस करने की आए तो लोग सबसे पहले Keto Diet के बारे में सोचते हैं। इस लो-कार्ब डायट को फॉलो करना बेहद मुश्किल होता है लेकिन अगर किसी ने यह डायट ठीक से फॉलो किया तो परिणाम चौंकाने वाले होते हैं। हालांकि, अब इसकी लोकप्रियता कुछ कम हो रही है। हेल्थ एक्सपर्ट्स और न्यूट्रिशनिस्ट्स का मानना है कि Keto Diet के कई नुकसान है। कीटो वजन कम करने में तो मदद करता है लेकिन इसके कई साइडइफेक्ट्स होते हैं। आइए, आपको बताते हैं कीटो डायट के साइडइफेक्ट्स के बारे में।
किडनी पर पड़ेगा बुरा असर
कीटो डायट के समय कई लोगों की किडनी खराब हो सकती है। इसमें लोग खूब मीट खाते हैं। ऐसे में अगर कम पानी पीएंगे तो यूरिक ऐसिड बढ़ने का खतरा है। इससे किडनी स्टोन भी हो सकता है।
कॉन्स्टिपेशन
कीटो डायट में आपको 25 ग्राम से कम कार्बोहाइड्रेट लेना होता है। यह बेहद मुश्किल है। कई लोग फल और सब्जियां भी खाना छोड़ देते हैं। ऐसे में आपके शरीर में फाइबर्स की कमी हो जाती है। फाइबर की कमी से आप कॉन्स्टिपेशन से पीड़ित हो सकते हैं।
विटामिन की कमी
जब आपने ताजे फल और सब्जियों को डायट से हटा दिया है तो आपके शरीर में जरूरी विटामिन और मिनरल्स की कमी होना स्वाभाविक है। कीटो सिर्फ कार्ब, प्रोटीन और फैट पर ध्यान देता है। ऐसे में शरीर में विटामिन की कमी हो जाती है। आप चाहें तो विटामिन की कमी से बचने के लिए विटामिन सप्लिमेंट्स ले सकते हैं।
मसल लॉस
कुछ रिसर्च के अनुसार कीटो डायट शरीर से मसल्स भी कम कर सकता है। कुछ रिसर्च के अनुसार अच्छी ट्रेनिंग के बाद भी कीटो डायट लेने वाले कुछ लोगों में बॉडी मसल्स कम हो जाते हैं। ऐसा इसलिए होता है कि मसल्स बनाने में अकेले प्रोटीन कम कारगर होता वहीं कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन मिलकर मसल्स बनाने में ज्यादा कारगर होते हैं।
कीटो फ्लू
यह कीटो डायट का सबसे कॉमन साइड इफेक्ट है। कीटो डायट शुरू करने के बाद पहले कुछ हफ्तों में कई लोग इसका शिकार होते हैं। फ्लू के अलावा कई लोगों को चक्कर, उल्टी, पेट दर्द जैसी शिकायत भी होती हैं। ये तकलीफें की कई लोगों के कीटो डायट छोड़ने की प्रमुख वजह होती है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »