योगी सरकार के दो साल पूरे, पत्रकार वार्ता कर गिनाईं उपलब्‍धियां

लखनऊ। योगी आदित्यनाथ ने यूपी में अपनी सरकार के दो साल पूरे कर लिए हैं। मंगलवार को इस अवसर पर उन्होंने पत्रकारों से बात की और एसपी-बीएसपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने अपनी सरकार और पिछली सरकारों के कार्यों की तुलना के आंकड़े भी पेश किए।
पत्रकारों से बात करते हुए यूपी सीएम ने एक बार फिर से हिंदुत्व का मुद्दा उठाया है। पिछली सरकारों पर हमला बोलते हुए योगी ने कहा कि पूर्ववर्ती सरकारों में हिंदुओं पर अत्याचार हुआ। कई इलाके ऐसे थे जहां अल्पसंख्यक हिंदू थे और उन्हें अपने घर छोड़कर पलायन करना पड़ा था। उनकी (बीजेपी) सरकार आते ही वे लोग वापस लौटने लगे हैं।
योगी ने कहा कि यूपी में बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान दंगों का लंबा सिलसिला चला। दर्जनों ऐसे इलाके थे, जहां से अल्पसंख्यक हिंदुओं को इलाके छोड़ने पड़े थे। कैराना और कांधला इसका उदाहरण हैं। लोग अपने घरों से पलायन करके चले गए थे। वे अराजक तत्वों के हाथों अपने घर औने-पौने दामों में बेचने को मजबूर थे। यूपी में बीजेपी की सरकार आई तो पलायन करके चले गए हिंदू लौटने लगे। हमने प्रदेश के अंदर सुरक्षा का माहौल दिया। कांधला और कैराना से जो पलायन कर जा चुके थे लोगों ने अपने मकान अराजक तत्वों को बेच दिए थे, वे लोग फिर से अपने घरों में लौट आए हैं।
पिछली सरकारों में टूटे दंगों के रिकॉर्ड
यूपी सीएम ने कहा कि उनकी सरकार के दो साल के कार्यकाल के दौरान एक भी दंगा नहीं हुआ है, जबकि पिछली सकार के कार्यकाल में दंगों के रिकॉर्ड टूट गए थे। 2012 से लेकर दंगों की लिस्ट गिनाएं तो 2012 में 227 दंगे हुए, 2013 में 247, 2014 में 242, 2015 में 219 और 2016 में 100 से ज्यादा दंगे हुए थे। हजारों करोड़ों की संपत्ति को नुकसान हुआ था।
गिनाए मायावती और अखिलेश के घोटाले
योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यूपी में सात बार के एसपी और बीएसपी शासनकाल में प्रदेश की जो स्थिति थी, वह सब जानते हैं। हत्या, लूट, बलात्कार, दंगे, देश की पहचान बन गए थे। अराजकाता का माहौल था। देश में घोटालों का लंबा दौर चला। उन्होंने मायावती के स्मारक घोटाला और अखिलेश सरकार के खनन घोटाले को भी गिनाया। राज्य में भर्ती घोटाला सहित तमाम घोटाले हुए। उनकी सरकार ने 24 महीने का कार्यकाल पूरा किया और प्रदेश की तस्वीर बदल दी है। बदहाल तस्वीर को बदनुमा दाग लगे थे उसे साफ किए।
3,500 से ज्यादा मुठभेड़
यूपी सीएम ने कहा कि बीजेपी की सरकार आने के बाद प्रदेश में सुरक्षा का माहौल पैदा हुआ। उन्होंने अपराधियों पर लगाम लगाई। प्रदेश में 3,500 से ज्यादा मुठभेड़ हुईं। 800 अपराधी पकड़े गए। एक हजार से ज्यादा अपराधी घायल हुए। कई तो डर की वजह से अपनी जमानत कैंसल कराकर जेल चले गए तो कई राज्य छोड़कर भाग गए। हालांकि आधा दर्जन पुलिसवाले शहीद भी हुए। अब यूपी में कानून-व्यवस्था नजीर बन गई है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *