चेतेश्वर पुजारा के लिए कुछ अलग है साल 2021

चेतेश्वर पुजारा भारतीय टेस्ट टीम का अहम हिस्सा हैं। इस प्रारूप में उन्होंने भारत के लिए कई अहम पारियां खेली हैं। वह क्रिकेट के प्रारूप के विशेषज्ञ बल्लेबाज माने जाते हैं। हालांकि फटाफट क्रिकेट के लिए उनके नाम के बारे में विचार कभी नहीं किया गया।
लेकिन साल 2021 पुजारा के लिए कुछ अलग आया है। चेन्नई सुपर किंग्स ने उन्हें इस साल के इंडियन प्रीमियर लीग के लिए अपनी टीम में चुना है। इस सीजन की शुरुआत 9 अप्रैल से चेन्नई में ही हो रही है। इस साल का पहला मैच रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और गत चैंपियन मुंबई इंडियंस के बीच खेला जाएगा।
पुजारा की सात साल बाद आईपीएल (IPL) में वापसी हुई है। उन्होंने बताया कि कैसे उनके करियर के शुरुआती वर्षों में पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने उन्हें टी20 बल्लेबाजी को सुधार करने की सलाह दी थी।
उन्‍होंने कहा कि एक वक्त था जब उन्हें लगता था कि अगर वह अपनी टी20 क्रिकेट की बैटिंग के बारे में ज्यादा सोचेंगे तो उनकी टेस्ट क्रिकेट की बैंटिंग ‘बर्बाद’ हो जाएगी लेकिन राहुल द्रविड़ की सलाह ने उनका नजरिया बदलने में मदद की।
पुजारा ने कहा, ‘यह सब अनुभव के साथ आता है। जब मैं पहले टी20 फॉर्मेट में खेल रहा था, तो मुझे यह चिंता रहती थी कि क्या मेरा टेस्ट क्रिकेट खराब हो जाएगा? क्या आईपीएल (IPL) खत्म होने के बाद मेरी बल्लेबाजी में कुछ तकनीकी समस्या हो जाएगी। लेकिन अब मैं इस बात से निकल गया हूं।’
उन्होंने आगे कहा कि राहुल द्रविड़ ने मुझे समझाया था कि बल्लेबाज का नेचुरल खेल कहीं नहीं जाता है, भले ही वह कुछ और आक्रामक शॉट खेलना ही शुरू क्यों न कर दे। उन्होंने कहा, ‘समय के साथ-साथ मुझे समझ आ गया कि मेरी स्ट्रेंथ, मेरा नेचुरल गेम कहीं नहीं जाने वाले, भले ही मैं अलग तरह के शॉट खेलना क्यों न शुरू कर दूं।’
उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने बहुत कम उम्र में खेलना शुरू कर दिया था। मैंने अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू साल 2005-06 में किया था। तो करीब 15 साल से मैं क्रिकेट खेल रहा हूं। तो अगर मैं अब टी20 क्रिकेट खेलता हूं, तो जब मैं टेस्ट सीरीज के लिए तैयारी करूंगा तो अपना टेस्ट क्रिकेट नहीं भूलूंगा। टी20 फॉर्मेट को अपनाना और दोबारा टेस्ट क्रिकेट खेलना कोई समस्या नहीं होगी।’
पुजारा ने अपना पिछला आईपीएल (IPL) मैच साल 2014 में किंग्स इलेवन पंजाब (अब पंजाब किंग्स) के लिए खेला था। इससे पहले वह कोलकाता नाइट राइडर्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए भी खेल चुके हैं। उन्होंने 30 आईपीएल मुकाबलों में 390 रन बनाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 99.74 का रहा है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *