Geneva में शाह महमूद कुरैशी के मुंह से निकल ही गया सच

जिनेवा। क्या पाकिस्तान ने मान लिया है कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है? लोगों में इसको लेकर उत्सुकता तब बढ़ने लगी जब पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी का एक वीडियो वायरल हुआ। यह वीडियो संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद की बैठक हिस्सा लेने Geneva पहुंचे कुरैशी के मीडिया संबोधन का है। इस वीडियो में वह एकतरफ भारत पर मानवाधिकार के उल्लंघन के आरोप लगा रहे हैं तो दूसरी तरफ वह कश्मीर को भारतीय राज्य भी स्वीकार कर रहे हैं। बता दें कि पाकिस्तान इसे भारत प्रशासित कश्मीर कहता है।
कुरैशी ने कहा, ‘भारत दुनिया को यह जताने की कोशिश कर रहा है कि जिंदगी (कश्मीर में) सामान्य हो गई है। अगर जिंदगी सामान्य है तो वे अंतर्राष्ट्रीय मीडिया, अंतर्राष्ट्रीय संगठन, एनजीओ, सिविल सोसायटी को भारत के राज्य जम्मू-कश्मीर में जाने क्यों नहीं दे रहे। उन्हें खुद सच्चाई क्यों नहीं देखने दे रहे।’
भारत पर मानवाधिकार के उल्लंघन का आरोप लगाने वाले कुरैशी ने कहा, ‘वे झूठ बोल रहे हैं। एक बार कर्फ्यू हटते ही सच्चाई बाहर आएगी और दुनिया जागेगी कि वहां क्या तबाही चल रही है।’
सुरक्षा परिषद में मुंह की खा चुका पाकिस्तान अब जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में भी मुद्दा बनाने की कोशिशों में जुटा है। पाकिस्तान ने मंगलवार को 115 पेज के झूठ के पुलिंदे के साथ कश्मीर की स्थिति को लेकर भारत पर आरोप लगाए। पाकिस्तान के विदेश मंत्री कुरैशी ने भारत पर कश्मीर में मानवाधिकारों के उल्लंघन का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कश्मीर भारत का आंतरिक मुद्दा नहीं है और यूएन को इसमें दखल देना चाहिए।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »