कोरोना वॉरियर्स के सम्‍मान में 3 मई को तीनों सेनाएं करेंगी विशेष गतिविधियां

नई दिल्‍ली। देश के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत ने आज आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरावणे, एयर चीफ मार्शल बीरेंद्र सिंह धनोआ, एडमिरल करमबीर सिंह के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की।
कोरोना संकट के बीच यह पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस है जब सीडीएस के साथ तीनों सेना प्रमुख भी थे।
प्रेस कॉन्फ्रेंस CDS जनरल बिपिन रावत ने कहा, पूरी दुनिया कोरोना संकट से जूझ रही है। हम सेना की तरफ से कोरोना के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे योद्धाओं को सलाम करते हैं।
देश की सेना, सरकार के हर कॉल के साथ है।
3 मई रविवार को तीनों सेनाओं की तरफ से विशेष गतिविधियां होंगी। एयर फोर्स श्रीनगर से तिरुअनंतपुरम और डिब्रूगढ़ से कच्छ तक फ्लाई पास्ट करेगी।
कोरोना वॉरियर्स के समर्थन में नेवी समुद्र किनारों को रोशनी से जगमगा देगी। 3 मई की शाम नेवी तटीय क्षेत्रों में अपने युद्धक जहाज तैनात करेगी। ये वॉरशिप्स रोशनी से जगमगाएंगे और नेवी के हेलिकॉप्टर्स कुछ अस्पतालों और खासकर कोविड स्पेशल अस्पतालों पर फूल बरसाएंगे।
आर्मी अपनी तरफ से देशभर के करीब-करीब सभी जिलों के कुछ कोविड अस्पतालों के साथ माउंटेन बैंड डिस्प्ले करेगी।
पुलिस बलों के समर्थन में सशस्र बल 3 मई को पुलिस मेमोरियल पर माल्यार्पण करेंगे।
ध्यान रहे कि सेना देश में कोरोनावायरस के संकट से निपटने के लिए बढ़चढ़कर हिस्सा ले रही है और उसने कई क्वारंटीन सेंटर भी बनाए हैं। सेना कई पड़ोसी देशों में कोरोनावायरस के संक्रमण से निपटने में अपनी टीमें भेजने की योजना बना रही है। कोरोना वायरस के कहर के चलते चीन से लगती वास्तविक नियंत्रण सीमा पर इंडियन आर्मी और चीन की सेना के बीच होने वाली बॉर्डर पर्सनेल मीटिंग (बीपीएम) भी स्थगित कर दी गई थी।
हर साल 1 मई को चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी भारतीय सेना को एलएसी पर चीन की तरफ बने मीटिंग पॉइंट्स पर होस्ट करती है, लेकिन इस बार इंडियन आर्मी को निमंत्रण नहीं मिला।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *