11 सितंबर 2007 को शुरू हुआ था टी-20 विश्व कप

आज से ठीक 10 साल पहले यानि 11 सितंबर 2007 को क्रिकेट के इतिहास में एक नया पन्ना जुड़ा था। दरअसल उस दिन पहले टी-20 विश्व कप की शुरुआत हुई थी। द. अफ्रीका में खेले गए फटाफट फॉर्मेट के इस महाकुंभ में 12 टीमों ने ज़ोर आज़माइश की थी। इस टूर्नामेंट का पहला मैच वेस्टइंडीज़ और द. अफ्रीका के बीच जोहानिसबर्ग के मैदान पर खेला गया था। इस मैच में द.अफ्रीका ने 8 विकेट से जीत दर्ज़ की थी।
रोमांच से भरपूर था भारत का पहला मैच
इस टूर्नामेंट में 14 सितंबर को भारत का पहला मुकाबला अपने कट्टर विरोधी पाकिस्तान से था। इस मैच में पाकिस्तान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया। टीम इंडिया की तरफ से उथप्पा ने अर्धशतक जमाया तो टीम इंडिया के नए-नवेले कप्तान धौनी ने भी 33 रन की शानदार पारी खेली। भारत ने 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 141 रन बनाए। 142 रन का पीछा करते हुए पाकिस्तान की टीम ने भी निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 141 रन बनाए और मैच टाई हो गया।
टाई होने के बावजूद भी हुआ मैच का फैसला
टी-20 क्रिकेट तो रोमांच से भरपूर है मैच टाई होने के बाद दुनिया ने देखा पहली बार वो कमाल देखा जब मैच टाई होने के बाद भी मैच का निर्णय निकल गया और ये रिजल्ट निकला बॉल आउट से। बॉल आउट में एक टीम को विकेट हिट करने के लिए पांच मौके दिए जाते थे और पिच पर गेंदबाज़ तो गेंद फेंकता था लेकिन कोई बल्लेबाज़ वहां पर नहीं होता था और गेंदबाज़ को सिर्फ विकेट चटकानी होती थी। जो भी टीम स्टंप्स को ज़्यादा पर हिट करती वो मैच की विजेता बन जाती। इस मैच में धौनी ने तेज़ गेंदबाज़ों की जगह विकेट पर निशाना साधने का काम अपने स्पिन गेंदबाज़ों को सौंपा और माही की ये चतुराई रंग लाई, टीम इंडिया ने ये मैच जीत लिया।
पहली बार खेले गए इस टूर्नामेंट को धौनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने जीता और फाइनल में भी भारत का मुकाबला पाकिस्तान की टीम से ही हुआ।
क्रिकेट में टेस्ट मैच सबसे पुराना फॉर्मेट है इसी वजह से पांच दिन के प्रारूप को ही असली क्रिकेट कहा जाता है। लेकिन जैसा कि हम सब जानते हैं परिवर्तन सृष्टि का नियम है तो इस खेल में भी बदलाव हुए। टेस्ट क्रिकेट के बाद वनडे फॉर्मेट आया, जिसने पांच दिन के खेल को एक दिन में बदल दिया। सफेद कपड़ों का ये खेल रंगीन कपड़ों में खेला जाने लगा। पहला एकदिवसीय मैच 5 जनवरी 1971 को इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया। वनडे के बाद इस खेल के फॉर्मेट में एक बार फिर से बदलाव हुआ और तब दुनिया ने देखा इस खेल के सबसे छोटे फॉर्मेट ट्वेंटी-20 को। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहला टी-20 मैच 5 अगस्त 2004 को खेला गया था। इंग्लैंड और न्यूज़ीलैंड की महिला टीम के बीच खेले गए इस मैच को कीवी टीम ने 9 रन से अपने नाम किया था।
-एजेंसी