ताजमहल पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने आगरा के DM से कहा, क्‍या यहां तमाशा चल रहा है

नई दिल्ली। ताजमहल के संरक्षण को लेकर चल रही सुनवाई के दौरान पेश हुए आगरा के DM एनजी रविकुमार को सुप्रीम कोर्ट ने जमकर लताड़ा। सुप्रीम कोर्ट ने DM एनजी रविकुमार से कहा कि यहां तमाशा हो रहा है या मजाक चल रहा है।
कोर्ट ने पूछा कि इतने समय में भी आप ड्राफ्ट पेश कर रहे हैं, क्या इसमें फिर से संशोधन करेंगे?
सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश और केंद्र सरकार को भी कड़ी फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि ताजमहल के संरक्षण के लिए कोई कुछ नहीं कर रहा है। कोर्ट ने केंद्र और यूपी सरकार से कहा कि कोर्ट को सोमवार तक बताया जाए कि ताज की सुरक्षा के लिए कौन जिम्मेदार है?
उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से ताजमहल को लेकर विजन डॉक्युमेंट का ड्राफ्ट पेश करने को लेकर कोर्ट ने कहा कि क्या यहां तमाशा हो रहा है?
सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस लोकुर ने कहा, ‘एक अथॉरिटी होनी चाहिए, जो जिम्मेदारी ले। ऐसा लग रहा है जैसे अथॉरिटीज ने ताज से हाथ धो लिए हैं। हम ऐसी स्थिति में हैं कि हमने एक विजन डॉक्युमेंट तैयार किया है, जिसमें एएसआई की कोई हिस्सेदारी नहीं है।’
सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और उत्तर प्रदेश सरकार को आदेश दिया कि वे इसके लिए अधिकारियों और अथॉरिटीज को नियुक्त करे, जो ताजमहल के रख-रखाव का काम करेगी और ताज ट्रेपेजियम जोन को फिर से विकसित करेगी।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »