अंधविश्वासी अखिलेश बोले, जल्‍द दिखेगा सीएम योगी के नोएडा जाने का असर

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कुछ दिनों पहले कथित अंधविश्वास तोड़ते हुए नोएडा जाने वाले सीएम योगी आदित्यनाथ पर चुटकी ली है। उन्होंने कहा कि इसका असर अब जल्द ही दिखेगा।
यूपी की राजधानी लखनऊ में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में तंज कसते हुए अखिलेश ने कहा, ‘कभी-कभी भगवान भी अच्छा काम करता है। हमें नोएडा मेट्रो के उद्घाटन में नहीं बुलाया गया। हालांकि, सीएम साहब नोएडा गए तो लेकिन हमने तस्वीर में देखा कि ना वो बटन दबा सके ना मेट्रो को हरी झंडी दिखा पाए। हम तो यही कहेंगे कि नोएडा जाने पर यही होता है और अभी नोएडा का असर दिखना बाकी है।’
बता दें कि अब तक यह माना जाता रहा है कि जो भी मुख्यमंत्री नोएडा का दौरा करता है, वह दूसरी बार सीएम की कुर्सी नहीं बचा पाता है। यही वजह रही कि कि पिछले कुछ सालों से यूपी के मुख्यमंत्री नोएडा दौरे से बचते रहे हैं। हालांकि मेट्रो के उद्घाटन के दौरान योगी आदित्यनाथ इस मिथक को तोड़ते दिखे और पीएम नरेंद्र मोदी ने भी इसकी सार्वजनिक रूप से प्रशंसा की थी।
योगी सरकार की नीतियों पर सवाल
पत्रकारों से बातचीत के दौरान अखिलेश ने कहा कि प्रदेश में ठंड के मौसम में स्वेटर बंट जाने चाहिए थे, लेकिन अब तक ऐसा हो ना सका। जो सरकार स्वेटर नहीं दे पा रही हो उससे और क्या उम्मीद की जा सकती है।
सरकार ने वादा किया था कि आलू के लिये सही कीमत दी जाएगी लेकिन पिछली आलू की फसल के लिए कोल्ड स्टोरेज का इंतजाम नहीं हुआ और फसल खराब हो गई। इसके बाद जब नई फसल आई उसकी कीमत नहीं दी जा सकी। धान, आलू और गन्ना सभी प्रकार के किसानों का नुकसान हुआ लेकिन फसल बीमा के नाम पर किसी नुकसान की भरपाई नहीं की गई। इन सब से परेशान तमाम किसानों ने इस साल सबसे ज्यादा आत्महत्या की लेकिन सरकार ने इसके लिए कुछ नहीं किया।
‘फोरलेन सड़कों पर कितना पैसा खर्च किया’
अखिलेश ने कहा, ‘मैं सरकार से पूछना चाहता हूं कि यूपी में फोरलेन सड़कों पर कितना पैसा खर्च किया गया? सरकार कह रही है कि हम ऐसी सड़क बनाएंगे जो तीन पीढ़ियों तक ना टूटे लेकिन जो सड़क समाजवादी सरकार में बन रही थी उन पर वर्तमान सरकार ने कितना पैसा खर्च किया। सरकार ने मेडिकल कॉलेज बनाने के दावे किए लेकिन जो इलाज फ्री हो रहे थे, उन्हें भी बंद कर दिया गया।’
‘1090 को अपनी योजना बता रहे हैं योगी’
उन्होंने कहा, ‘सीएम योगी 1090 को अपनी सरकार की योजना बता रहे हैं। सीएम कई बार गलती कर देते हैं लेकिन सही बात यह है कि हमने जिस 1090 की व्यवस्था को शुरू किया था वह अब तक की सबसे अच्छी योजना है। प्रदेश में नोएडा, बुलंदशहर और बांदा में जो घटनाएं हुईं, वह दुर्भाग्यपूर्ण है। हमने जो डायल 100 की योजना शुरू की थी अगर उसका कुशल प्रबंधन होता तो शायद ये घटनाएं ना होतीं, क्योंकि ये गाड़ियां सड़कों पर पेट्रोलिंग करते मिल जातीं।’
‘गलतियां छिपाने के लिए जातिवादी होने का आरोप लगाती है बीजेपी’
अखिलेश ने कहा कि बीजेपी के लोग खुद जातिवाद की राजनीति करते हैं और अपनी गलतियां छिपाने के लिए दूसरों पर जातिवादी होने का आरोप लगाते हैं। हाल में बजट भी आने वाला है, सरकार डबल इंजन की है इसलिए योगी जी से मांग है कि वह केंद्र से प्रदेश के लिए ज्यादा पैसा लेकर आएं। योगी जी एक्सप्रेस-वे पर टोल टैक्स लगा रहे हैं और हम पर आरोप लगाते थे कि यह एक्सप्रेस-वे अधूरा है। अगर एक्सप्रेस-वे अधूरा था तो इसपर टोल टैक्स कैसे लगाया जा सकता है?
‘भगवा क्रीम’ लगाने वालों से सतर्क रहें ‘
सच तो यह है कि प्रदेश की सरकार इमारतों का रंग बदल रही है लेकिन मैंने हमेशा कहा कि काम करोगे तो खुशहाली आने से चेहरे का रंग खुद बदल जाएगा लेकिन सिर्फ रंग बदलने से विकास नहीं हो सकता। जब हमने सवाल किया तो सरकार के लोगों ने कहा कि हम भगवा नहीं बल्कि दीवारों को क्रीम रंग में रंगना चाहते थे, इसीलिए मैं प्रदेश वासियों से कहूंगा कि इन भगवा की क्रीम लगाने वालों से सतर्क रहें।
-Legend News