हृदय रोग जैसी कई गंभीर बीमारियों से लड़ने की ताकत है हरी मटर में

प्रकृति ने हमें अलग-अलग मौसम दिए हैं, तो हर मौसम के अनुकूल खाने-पीने की चीजें भी दी हैं। अलग-अलग मौसम में आने वाले फल और सब्जियां वास्तव में हमारे शरीर को मौसम के अनुरूप जरूरी पोषक तत्व देते हैं। ऐसी ही एक सब्जी है मटर, जो सर्दी के मौसम में आती है। मटर काफी पौष्टिक होती है क्योंकि इसमें फाइबर और ऐंटिऑक्सिडेंट काफी मात्रा में पाए जाते हैं।
विशेषज्ञों के अनुसार मटर में हृदय रोग जैसी कई गंभीर बीमारियों से लड़ने की ताकत है।
आगे जानें, मटर खाने के फायदों के बारे में…
हरी मटर में कैलरी की मात्रा कम होती है जबकि स्वाद में इसका कोई जवाब नहीं। 100 ग्राम मटर में सिर्फ 35 कैलरी होती है इसलिए हरे मटर से आपकी भूख भी शांत होगी और वजन भी कंट्रोल में रहेगा।
हरी मटर में फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है इसलिए ये एनर्जी से भरपूर होती है। मटर बढ़ती उम्र के लक्षणों को कम करती है इसलिए रोजाना हरी मटर का सेवन करने से आप अपनी असली उम्र की तुलना में जवान नजर आ सकते हैं।
एक शोध के मुताबिक हरी मटर से आपकी याद्दाश्त भी बेहतर होती है और ये कई तरह की दिमागी कमजोरियों में भी फायदेमंद है।
मटर से आपके शरीर का कलेस्ट्रॉल लेवल कम होता है इसलिए इससे धीरे-धीरे मोटापा घटता है।
मटर में मैग्नीशियम, पोटैशियम और कैल्शियम जैसे मिनरल्स पाए जाते हैं। ये आपके ब्लड शुगर को भी कम करते हैं इसलिए मटर खाने से हृदय रोगों में भी फायदा मिलता है। ये टाइप 2 डायबीटीज के मरीजों के लिए भी फायदेमंद है।
मटर में मौजूद फाइबर खाना पचाने के लिए जरूरी जीवाणुओं को ऐक्टिव रखता है इसलिए इसके खाने से आपका डाइजेशन ठीक रहता है।
चेहरे पर झाइयां हैं तो मटर आपके बहुत काम आ सकती है। झाइयां खत्म करने के लिए मटर के पेस्ट को आधे घंटे चेहरे पर लगाए रखें और फिर पानी से चेहरा धो लें। धीरे-धीरे आपको फायदा नजर आएगा।
मटर के दानों को दरदरा पीसकर इसे स्क्रब के रूप में भी प्रयोग कर सकते हैं। इसके प्रोटीन आपके चेहरे को पोषण देंगे और चेहरे की चमक भी बढ़ाएंगे।
अगर आप जल गए हैं या आपको कोई ऐसा घाव हो गया है जो लगातार चुभ रहा है तो मटर के पेस्ट का लेप लगाएं, ठंडक मिलेगी।
-एजेंसी