Michael ने अमेरिका में मचाई तबाही, कई लोगों की मौत

फ्लोरिडा से कभी नहीं टकराया Michael जैसा भीषण तूफान 

नई दिल्‍ली। फ्लोरिडा के तटवर्ती क्षेत्रों में आए सदी के सबसे भीषण तूफान Michael ने अमेरिका में तबाही मचा दी है जिससे कई लोगों की मौत हो गई है।
तूफान माइकल के कारण छह लोगों की मौत हो चुकी है। तूफान माइकल का रुख वर्जीनिया के पूर्वी हिस्से से आगे बढ़कर अटलांटिक की ओर हो चुका है। मैक्सिको तट पर तूफान के प्रचंड रूप धारण करने से कई घर क्षतिग्रस्त हो गए, नौकाएं पलट गयी और बिजली के तारों को नुकसान पहुंचा।

फ्लोरिडा के गवर्नर रिक स्कॉट ने कहा कि तूफान की वजह से भीषण बर्बादी हुई है और यह वक्त ऐसे लोगों की मदद करने का है जिन्होंने वहां से हटने के आदेशों पर ध्यान नहीं दिया था। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि तूफान से प्रभावित लोगों की मदद की जाएगी। अमेरिकी सेना ने कहा कि फ्लोरिडा नेशनल गार्ड के 2,000 से ज्यादा सैनिक राहत अभियान में लगे हुए हैं।

तूफान के कारण छह लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। फ्लोरिडा के गैड्सडेन काउंटी में चार, जार्जिया में एक और उत्तरी कैरोलीना में एक व्यक्ति की मौत हुई है। बुधवार दोपहर आया माइकल तूफान श्रेणी चार का तूफान है। फ्लोरिडा के उत्तर पश्चिमी पेनहेंडल में यह पिछली एक सदी में आया सबसे भीषण तूफान है।

अमेरिका में 167 साल का सबसे भीषण तूफान ‘हरिकेन माइकल’ गुरुवार को फ्लोरिडा के उत्तर-पश्चिमी तट से टकराया। तूफान की वजह से 200 किमी/घंटा की रफ्तार से हवाएं चलीं, जिससे तटीय इलाकों में भूस्खलन और पेड़ गिरने जैसी घटनाएं हुई। भारी बारिश से समुद्र के करीबी इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई। पेड़ की चपेट में आने से एक व्यक्ति की मौत हो गई।

राज्य के आपातकालीन सेवा विभाग के मुताबिक, फ्लोरिडा, अलाबामा और ज्योर्जिया में तूफान की वजह से 5 लाख लोग बिना बिजली के रहने को मजबूर हैं। तट से टकराने के वक्त माइकल इतना ताकतवर था कि अंदर घुसने के बावजूद हवाओं की रफ्तार में खास कमी नहीं आई।
जानकारी के मुताबिक, माइकल मंगलवार को कैटेगरी-2 का तूफान था। लेकिन बुधवार सुबह तक इसकी तीव्रता बढ़कर कैटेगरी-4 के ‘अत्याधिक खतरनाक’ तूफान की हो गई थी। वैज्ञानिकों का कहना था कि इस बेहद भीषण तूफान की तुलना पिछले तूफानों से नहीं की जा सकती। हालांकि, बुधवार शाम तट से टकराने से पहले माइकल की तीव्रता घटकर कैटेगरी-3 पर आ गई।

माइकल की चपेट में आकर मध्य अमेरिका में अब तक 13 लोगों की मौत हुई है। होंडुरास में 6 की मौत, निकारागुआ में 4 और अल-साल्वाडोर 3 लोगों की मौत हुई। खतरे को देखते हुए फ्लोरिडा से पहले ही 3.70 लाख लोगों को निकाल लिया गया। अधिकारियों का कहना है कि कई लोगों ने उनकी चेतावनी नहीं मानी।

रिकॉर्ड के मुताबिक, फ्लोरिडा पैनहैंडल (उत्तर-पश्चिमी इलाकों) से आज तक कभी कैटेगरी-4 तूफान नहीं टकराया। तूफान से निपटने के लिए नेशनल गार्ड के 2500 सदस्यों को ड्यूटी पर लगाया गया है। राहत अभियानों के लिए संघीय फंड जारी किए गए।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »