टूलकिट पर सरकार ने ट्विटर से कहा, सत्‍यता का निर्धारण जांच करेगी न कि ट्विटर

नई दिल्‍ली। केंद्र ने सरकार को बदनाम करने वाले टूलकिट पर टैग के लिए हेरफेर करके बनाए गए मीडिया टैग को लेकर ट्विटर से ऐतराज जताया है. सूत्रों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी.
देश के कोविड-19 के खिलाफ प्रयासों को कथित तौर पर बदनाम करने के लिए यह मीडिया टैग तैयार कए गए थे. सरकार ने दोटूक लहजे में ट्विटर से कहा है कि यह मीडिया टैग हटाए क्‍योंकि मामला अभी लंबित है.
सूत्रों के अनुसार जांच ही सामग्री की सत्‍यता का निर्धारण करेगी न कि ट्विटर. इसके साथ ही सरकार ने ट्विटर से जांच की प्रक्रिया में दखल नहीं देने को कहा है. ट्विटर ऐसे समय अपना जजमेंट नहीं दे सकता जब मामला जांच के दायरे में है. ट्विटर पर इस तरह के कंटेट का होना इस सोशल मीडिया बेवसाइट की प्रतिष्‍ठा पर सवालिया निशान लगाता है. केंद्र सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने भारतीय राजनीतिक नेताओं द्वारा किए गए कुछ ट्वीट्स पर “Manipulated Media” टैग के उपयोग पर आपत्ति दर्ज करने वाली ट्विटर की वैश्विक टीम को एक कड़ी आपत्ति का पत्र लिखा है. इसमें विपक्ष के नेताओं की ओर से कोरोना महामारी के प्रयासों को कमजोर करने, उसे पटरी से उतरने के लिए बनाई गयी टूलकिट के संदर्भ में और महामारी के खिलाफ सरकार के प्रयासों को नीचा दिखाने को लेकर है.
सूत्रों के मुताबिक़ मंत्रालय ने ट्विटर को भेजे अपने संदेश में कहा है कि संबंधित पक्षों में से एक ने स्थानीय कानूनी एजेंसी के समक्ष टूलकिट की सत्यता पर सवाल उठाते हुए शिकायत की है और इसकी जांच की जा रही है जबकि स्थानीय कानूनी एजेंसी ‘टूलकिट’ की सत्यता का निर्धारण करने के लिए जांच कर रही है. ट्विटर ने इस मामले में एकतरफा निष्कर्ष निकाला है और मनमाने ढंग से इसे ‘Manipulated Media’ के रूप में टैग किया है.
मंत्रालय ने आगे कहा कि ट्विटर द्वारा इस तरह की टैगिंग पूर्व-निर्धारित, पूर्वाग्रही और स्थानीय कानून प्रवर्तन एजेंसी द्वारा जांच को रंग देने का एक जानबूझकर प्रयास प्रतीत होता है. मंत्रालय ने ट्विटर द्वारा इस तरह की एकतरफा कार्यवाही को निष्पक्ष जांच प्रक्रिया को प्रभावित करने का प्रयास और एक स्पष्ट ओवररीच करार दिया है, जो पूरी तरह से अनुचित है.
सरकार के सूत्रों के मुताबिक़ इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने आगे कहा है कि ट्विटर ने एकतरफा करवाई करने और कुछ ट्वीट्स को “Manipulated” के रूप में नामित करने के लिए चुना. कानून प्रवर्तन एजेंसी द्वारा जांच लंबित है. यह कार्रवाई ना केवल उपयोगकर्ताओं द्वारा विचारों के आदान-प्रदान की सुविधा के लिए एक तटस्थ और निष्पक्ष मंच के रूप में ट्विटर की विश्वसनीयता को कमजोर करती है, बल्कि ट्विटर की “मध्यस्थ” की स्थिति पर भी सवालिया निशान लगाती है. सरकार ने ट्विटर से निष्पक्षता और समानता के हित में हाल के दिनों में कुछ ट्वीट्स पर प्रतिकूल प्रभाव डालने वाले ‘Manipulated Media’ टैग को हटाने के लिए कहा है.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *