महिलाओं के लिये भारत को सबसे खतरनाक देश बताने वाली रिपोर्ट सरकार ने खारिज की

दुबई। भारत को महिलाओं के लिये सबसे खतरनाक देश करार देने वाली रिपोर्ट को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने खारिज कर दिया है। मंत्रालय के अनुसार यह रिपोर्ट सिर्फ धारणा पर आधारित है तथा इसमें किसी डेटा का सहारा नहीं लिया गया है। ‘थॉमसन रॉयटर्स फाउंडेशन’ की रिपोर्ट के मुताबिक भारत महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देश है। इस सूची में सोमलिया और सउदी अरब जैसे देश चौथे और पांचवें स्थान पर हैं।
भारत महिलाओं के मुद्दों को लेकर अवगत
महिला आयोग की कार्यवाहक अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इस संदर्भ में एक बयान जारी कर कहा कि इस रिपोर्ट में भारत के सन्दर्भ में जो बात की गई है वो किसी रिपोर्ट या डेटा पर आधारित नहीं बल्कि एक सर्वेक्षण पर आधारित है। उन्होंने कहा कि फाउंडेशन गलत तरीके का इस्तेमाल कर इस दावे पर पहुंची है। यह रैंकिंग छह सवालों के जवाब के मुताबिक बनी धारणा पर आधारित है। रेखा ने कहा कि भारत में महिलाएं मुद्दों को लेकर अवगत हैं और ऐसा नहीं हो सकता कि किसी सर्वेक्षण में भारत को पहले स्थान पर रखा जाए। इस सर्वेक्षण रिपोर्ट में जिन देशों को भारत के बाद स्थान दिया गया है वहां महिलाओं को सार्वजनिक तौर पर बोलने तक की इजाजत नहीं है।
महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित देश भारत: सर्वे
बता दें कि थॉमसन रॉयटर्स फाउंडेशन के एक सर्वे के मुताबिक भारत में महिलाओं के प्रति अत्याचार और उन्हें जबरन वैश्यावृत्ति में धकेलने के मामले सबसे ज्यादा सामने आए हैं। सर्वे में पश्चिम देशों में केवल अमेरिका का ही नाम है। सर्वे के मुताबिक पिछले कुछ दिनों में अमेरिका में महिलाओं के प्रति हिंसा की गतिविधियां बढ़ी हैं। वहीं 2011 में हुए सर्वे में अफगानिस्तान, डैमोक्रेटिक रिपब्लिक ऑफ कॉन्गो, पाकिस्तान, भारत और सोमालिया महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित देश बताए गए थे।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »