आपसी भाईचारे का festival है नुआखाई- धर्मेंद्र प्रधान

नई दिल्ली। जुहार परिवार के सौजन्यह से पश्चिमी ओडिशा के किसानों द्वारा मनाया जाने वाला मुख्य festival नुआखाई फेस्टिवल का आयोजन नई दिल्ली स्थित त्यागराज स्टेडियम में किया गया।

गौरतलब है कि पश्चिम ओडिशा में इस त्यौहार को न सिर्फ किसान बल्कि बड़े से छोटे हर कोई घर के लोग धूम-धाम से लोग मनाते है। धान चावल की अच्छी फसल के आने को सेलिब्रेट करते हैं। इस दिन अपने पूर्वजों को याद करते हैं और बडों का आशिर्वाद लेते हैं। इस मौके पर केंद्रीय पेट्रोलियम एंड नैचुरल गैस एव स्किल डेवलप्में ट मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, ट्राइबल अफेयर्स मिनिस्टैर जुअल ओरल के अलावा सांसद प्रभास कुमार सिंह बतौर मुख्य अतिथि मौजूद थे।

इस मौके पर केंद्रीय पेट्रोलियम एंड नैचुरल गैस एव स्किल डेवलप्में ट मंत्री धर्मेंद्र प्रधान पे सभी उडीसावासियों को नुआखाई पर्व की शुभकामनाएं दीं उन्होंने कहा कि इस त्योुहार के साथ बहुत सारी मान्यमताएं जुडी हैं। नुआखाई त्यौहार 9 रंगों या रस्म-रिवाज़ों में पूरा होता है। यह वह रस्म होता है जिसमें सभी लोग अपने परिवार और आस-पास के अन्य लोगों को नुआखाई के दिन एक-साथ नया चावल खाने के लिए दावत देते हैं। देवी देवताओं की पूजा की जाती है साथ ही लोग इस दिन अपने पुराने लड़ाई-झगड़ों को भुला कर एक दूसरों से गले मिलते हैं।
ट्राइबल अफेयर्स मिनिस्टरर जुअल ओरम ने कहा कि इस पर्व को इतने बडे पैमाने पर दिल्लीस में मनाने के लिए जुहार परिवार का मैं धन्यववाद करता हूं। नुआखाई पर्व को मुख्य रूप से ओडिशा के संबलपुर, बरगढ़, बोलांगीर, कालाहांडी, सुंदरगढ़, झारसुगुडा, बौध, सोनपुर और नुआपड़ा जिला में बड़े तौर पर मनाया जाता है।

नुआखाई festival 2017 के मौके पर त्यादगराज स्टेरडियम में नटराज कला परिषद की ओर से रंगारंग सांस्क्रमतिक कार्यक्रम पेश किए गए जिसकी प्रस्तुीति में नवाघाना दास ने चार चांद लगा दिए।

फैशन शो का आयोजन सुजित मेहर ने किया। साथ ही ओडिसा के मशहूर फिल्मशमेकर जितेंद्र मिश्रा, गायिका रेशमा रानी दास, नूत्य प्रस्तुति में साशवत जोशी और पदमिनी पाणिग्रही ने भी अपनी प्रस्तुमति से सब का मन मोह लिया। -PR