पायलट अभिनंदन के पिता ने कहा, बालाकोट एयर स्ट्राइक में करीब 300 आतंकी मरे

चेन्नई। पाकिस्तान के कब्जे से लौट कर आए पायलट अभिनंदन के पिता एयर मार्शल सिंहाकुट्टी वर्धमान ने कहा है कि बालाकोट पाकिस्तान में हुई एयर स्ट्राइक में करीब 300 आतंकी मारे गए होंगे। ये बात उन्होनें आईआईटी मद्रास के छात्रों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि बालाकोट एयर स्ट्राइक में लेजर गाइडेड बमों का उपयोग किया गया था। जिसकी वजह से काफी आतंकियों के मारे जाने की आशंका है।
एयर मार्शल सिंहाकुट्टी ने कहा कि सभी हमले आतंकी कैंप के अंदर किए गए, इस हमले में इमारतों को भले ही कम नुकसान हुआ हो, लेकिन हताहतों की संख्या काफी ज्यादा हुई होगी। इस दौरान पाक एफ-16 फाइटर प्लेन और एमराम मिसाइल हमारे लिए बड़ा खतरा थी। हमने इसके लिए बेहतर प्लॉन तैयार किया और उसको बखूबी अंजाम भी दिया। पाक के सुरक्षातंत्र को धोखा देते हुए हमारे जांबांजों ने बालाकोट में मिशन को सफलतापूर्वक अंजाम दिया।
पहले हमारे सात विमानों ने पाक को धोखा देने के लिए बहावलपुर के लिए उड़ान भरी। बहावलपुर में जैश ए मोहम्मद का मुख्यालय है। पाकिस्तान ने सोंचा की हमारी योजना बहावलपुर पर हमला करने की है। उसने तुरंत अपने एफ-16 को उनके पीछे रवाना किया, तब तक हम बालाकोट में अपने मिशन को फतह कर चुके थे। पाकिस्तान भारत की संभावित कार्यवाही को लेकर पूरी तरह से सचेत था लेकिन उसको इस तरह की कार्यवाही का कतई अंदाजा नहीं था। उन्होंने कहा कि इस संबंध में विस्तृत जानकारी महीनों बाद निकलकर सामने आएगी।
बालाकोट ऑपरेशन में भारत ने 1971 के बाद पहली बार अंतर्राष्ट्रीय सीमा को पार किया था। एयर मार्शल वर्धमान ने कहा कि यदि फाइटर प्लेन सीमा के 10 किलोमीटर के अंदर उड़ान भरते हैं तो उनको रडार की ओर से सचेत किया जाता है। यदि प्लेन 8 किलोमीटर के दायरे में चला जाता है तो उससे बहुत सारे सवाल पूछे जाते हैं। बालाकोट में कार्यवाही के दौरान इस बात का खास ख्याल रखा गया कि नागरिकों को कोई नुकसान न हो।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »