कर्नाटक के मुद्दे पर कांग्रेस का आज भी लोकसभा से वॉकआउट

नई दिल्‍ली। कर्नाटक में सरकार का संकट संसद में भी हंगामे की वजह बन रहा है। सोमवार के बाद मंगलवार को भी लोकसभा से कांग्रेस ने कर्नाटक के मुद्दे पर वॉकआउट कर दिया।
यही नहीं, राज्यसभा भी कांग्रेस सांसदों के हंगामे के चलते दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है। कांग्रेस ने सदन में आरोप लगाया कि कर्नाटक में बीजेपी उनके विधायकों को तोड़ने का प्रयास कर रही है। इस पर जवाब देते हुए डिफेंस मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने कहा कि इसमें बीजेपी का कोई हाथ नहीं है। सोमवार को भी राजनाथ ने कांग्रेस के आरोपों पर जवाब देते हुए सीधे राहुल गांधी पर ही तंज कसते हुए कहा था कि इस्तीफा देने की परंपरा तो राहुल गांधी ने ही शुरू की है।
राजनाथ ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा, ‘कर्नाटक में जो कुछ हो रहा है, वह कांग्रेस का अंदरुनी मामला है। ये अपने घर को संभाल नहीं पा रहे हैं और यहां लोकसभा को डिस्टर्ब करने की कोशिश कर रहे हैं।’ सदन में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि शिकारी राजनीति हमेशा के लिए खत्म हो जानी चाहिए।
सूबे के पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने बीजेपी पर बरसते हुए कहा है कि सरकारों को अस्थिर करने की उसकी आदत रही है। यह अलोकतांत्रिक है। जनता ने बीजेपी को सरकार बनाने का जनादेश नहीं दिया है। हमें लोगों ने ज्यादा वोट दिए हैं। कांग्रेस और जेडीएस के खाते में 57 फीसदी वोट आए थे। यही नहीं सिद्धारमैया ने कहा कि इस बार सूबे में सरकार को अस्थिर करने में राज्य यूनिट ही नहीं बल्कि अमित शाह और नरेंद्र मोदी भी शामिल हैं।
इस बीच कांग्रेस को एक और करारा झटका लगा है और लंबे समय से बागी तेवर दिखाने वाले विधायक रोशन बेग ने भी सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। इसके साथ ही कांग्रेस-जेडीएस के इस्तीफा देने वाले विधायकों की संख्या 14 हो गई है और अन्य निर्दलीय सांसदों को मिला लें तो 16 एमएलए सरकार से समर्थन वापस ले चुके हैं।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »