प्रधानमंत्री मोदी की प्रशंसा करने पर थरूर को पार्टी से नोटिस

तिरुवनंतपुरम। कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता और सांसद शशि थरूर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करके फंस गए हैं। केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने पीएम मोदी की प्रशंसा करने पर शशि थरूर से स्‍पष्‍टीकरण मांगा है।
यही नहीं, राज्‍य नेतृत्‍व ने कांग्रेस आलाकमान से भी थरूर की शिकायत करने का फैसला किया है। केपीसीसी के अध्‍यक्ष मुल्‍लाप्‍पल्‍ली रामचंद्रन और राज्‍य में विपक्ष के नेता रमेश चेन्नितला ने थरूर के बयान का खुलकर विरोध किया। थरूर केरल की तिरुवनंतपुरम सीट से सांसद हैं।
यूडीएफ के समन्‍वयक बेनी बेहनन ने कहा कि कांग्रेस नेताओं की ड्यूटी है कि वे मोदी के कार्यों की प्रशंसा न करें।
उन्‍होंने कहा, ‘कांग्रेस संघ परिवार के एजेंडे को स्‍वीकार नहीं कर सकती है। किसी भी कांग्रेस नेता को पार्टी की ओर से मोदी के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान से दुखी नहीं होना चाहिए। कांग्रेस किसी भी कीमत पर मोदी की नीतियों और उनके विचारों का समर्थन नहीं कर सकती है।’
बेहनन ने कहा, ‘यही वजह है कि कांग्रेस पार्टी संसद के बाहर और अंदर मोदी का विरोध कर रही है। यह नई बात नहीं है कि कांग्रेस मोदी का विरोध कर रही है। कोई भी कांग्रेस कार्यकर्ता मोदी की प्रशंसा को स्‍वीकार नहीं करेगा।’
उन्‍होंने कहा कि हाल ही में हुए लोकसभा चुनाव में मोदी का विरोध करके कांग्रेस के नेतृत्‍व वाले यूडीएफ ने शानदार जीत दर्ज की।
‘मोदी अच्‍छा काम करते हैं तो उसकी प्रशंसा होनी चाहिए’
सूत्रों ने बताया कि केरल कांग्रेस ने थरूर से उनके बयान पर स्‍पष्‍टीकरण मांगा है। बता दें कि थरूर ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगर अच्‍छा काम करते हैं तो उसकी प्रशंसा होनी चाहिए।
थरूर ने ट्वीट किया, ‘अगर आप जानते हों तो मैं 6 साल पहले से ही यह कहता आ रहा हूं कि जब नरेंद्र मोदी अच्‍छा कहें या अच्‍छा करें तो उनकी प्रशंसा होनी चाहिए। इससे जब पीएम मोदी गलती करेंगे तो हमारी आलोचना को विश्‍वसनीयता मिलेगी। मैं इस बात का स्‍वागत करता हूं कि विपक्ष के अन्‍य नेता भी उसी विचार को मानने लगे हैं जिसे मैंने पहले कहा था।’
थरूर का यह बयान ऐसे समय पर आया था जब कांग्रेस के दो बड़े नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘खलनायक’ की तरह पेश करने को गलत बताया था। सीनियर कांग्रेस नेता जयराम रमेश के बाद अब अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा था कि पीएम मोदी को खलनायक की तरह पेश करना गलत है और ऐसा करके विपक्ष एक तरह से उनकी मदद करता है। इससे पहले जयराम रमेश ने कहा था कि पीएम मोदी के काम के महत्व को स्वीकार नहीं करने और हर समय उन्हें खलनायक की तरह पेश करने से कुछ हासिल नहीं होने वाला है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *