Thailand open 2021: निराशाजनक रही भारतीय अभियान की शुरुआत

नई दिल्‍ली। आज से बैंकॉक में शुरू हुए थाईलैंड ओपन में भारतीय अभियान की शुरुआत निराशाजनक रहीं। शीर्ष महिला खिलाड़ी और टोक्यो ओलंपिक में भारत की बड़ी उम्मीद पीवी सिंधु पहले ही दौर में हारकर बाहर हो गई। 25 वर्षीय महिला शटलर को डेनमार्क की मिया ब्लिचफेट ने 21-16, 24-26, 13-21 से मात दी। ओलंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधु के अलावा साई प्रणीत भी अपना पहला ही मैच गंवाकर टूर्नामेंट से बाहर हो गए।

हालांकि कोर्ट पर भारत को उस वक्त खुशखबरी भी मिली, जब सात्विक साईराज और अश्विनी पोनप्पा की मिश्रित युगल जोड़ी ने हाफि फजल और ग्लोरिया विदजाजा की इंडोनेशिया की जोड़ी को 21-11, 27-29, 21-16 से हराया। किदांबी श्रीकांत, सौरभ वर्मा, सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी, चिराग शेट्टी की चुनौतियां अभी शेष हैं।

कोरोना पॉजिटिव आने के बाद साइना-प्रणय बाहर, कश्यप भी मजबूरी में हटे

भारत के शीर्ष खिलाड़ियों में शुमार साइना नेहवाल और एचएस प्रणय की रिपोर्ट आज ही टूर्नामेंट से ठीक पहले पॉजिटिव आई। तीसरे दौर के परीक्षण में संक्रमित पाए जाने के बाद दोनों को टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा। राष्ट्रमंडल खेलों के पूर्व चैंपियन पारूपल्ली कश्यप को भी अपनी पत्नी और साथी खिलाड़ी साइना के साथ करीबी संपर्क के कारण टूर्नामेंट से मजबूरी में बाहर होना पड़ा।

भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) ने बयान में कहा, ‘पॉजिटिव पाए जाने के बाद दोनों खिलाड़ियों को कम से कम 10 दिन पृथकवास में रखने के लिए अस्पताल ले जाया गया। साइना के साथ करीबी संपर्क के कारण पारूपल्ली कश्यप भी टूर्नामेंट से हट गए हैं और अपने होटल के कमरे में पृथकवास में हैं।’

साइना और प्रणय पिछले महीने की इस संक्रमण से उबरे थे और भारतीय टीम के साथ एशियाई चरण के थाईलैंड ओपन (12-17 जनवरी) और टोयोटा थाईलैंड ओपन (19-24 जनवरी) तथा एचएसबीसी बीडब्ल्यूएफ विश्व टूर फाइनल्स 2020 (27-31 जनवरी) में हिस्सा लेने की तैयारी कर रहे थे।
साइना और किदांबी श्रीकांत व्यव्स्था से नाराज
कोरोना पॉजिटिव आने के बाद सोशल मीडिया पर साइना नेहवाल भड़क उठी, उन्होंने कहा कि मेरा टेस्ट कल किया गया था और अब तक मुझे रिपोर्ट तक नहीं दिखाई गई है। यहां बहुत असमंजस की स्थिति है। आज वॉर्म-अप से ठीक पहले मुझे बताया जाता है कि मैं कोरोना पॉजिटिव हूं और मुझे अस्पताल जाना होगा। नियमों के मुताबित तो रिपोर्ट पांच घंटे के भीतर आ जानी चाहिए।

लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साइना को मंगलवार को पहले दौर में मलेशिया की किसोना सलवादुरई से खेलना था जबकि प्रणय और कश्यप को क्रमश: मलेशिया के आठवें वरीय ली जी जिया और कनाडा के जेसन एंथोनी हो शुई का सामना करना था। ये तीनों खिलाड़ी टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले पाएंगे जबकि भारतीय टीम के बाकी खिलाड़ियों को टूर्नामेंट में हिस्सा लेने की स्वीकृति दी गई है।

भारत के अन्य शीर्ष सिंगल शटलर किदांबी श्रीकांत भी व्यवस्था से खिन्न नजर आए। खून से सनी तस्वीरों को ट्वीट करते हुए उन्होंने अपनी पीड़ा व्यक्त की। पुलेला गोपीचंद के शिष्य और कई अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता जीत चुके 27 वर्षीय श्रीकांत ने कोरोना टेस्ट के दौरान की तस्वीरें ट्वीट करते हुए लिखा, ‘हम मैच से पहले अपना काफी ध्यान रखते हैं। मैच से पहले इस तरह खून बहाने के लिए यहां नहीं आए। बैंकॉक पहुंचने के बाद मैं अब तक चार कोरोना टेस्ट करवा चुका हूं और विश्वास से कह सकता हूं कि उनमें से एक के दौरान भी मेरा अनुभव अच्छा रहा हो। यह असहनीय है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *