कश्मीर के पुलवामा में CRPF कैंप पर आतंकी हमला: चार जवान शहीद, तीन आतंकी ढेर

श्रीनगर। ऑपरेशन ऑल आउट से बौखलाए आतंकवादियों ने साल के आखिरी दिन जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में CRPF के ट्रेनिंग सेंटर पर पठानकोट एयरबेस की तरह बड़ा हमला किया है। CRPF के ट्रेनिंग सेंटर में रविवार रात 2 बजे घुसे जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों ने जबरदस्त फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने तुरंत मोर्चा संभाला और मुठभेड़ शुरू हो गई। इस दौरान 4 जवान शहीद हो गए और 3 अन्य घायल हुए हैं। सुरक्षाबलों ने 3 आतंकवादियों को मार गिराया है। अभी सर्च ऑपरेशन जारी है।
जैश-ए-मोहम्मद ने 2016 में पठानकोट एयरबेस पर नए साल के जश्न के बीच ही हमला किया था। तब 1 जनवरी की रात हुए इस हमले में 7 सैनिक शहीद हो गए थे। उस समय मुठभेड़ 80 घंटे तक चला था।
आतंकी हमले पर जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने मीडिया को बताया कि आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन जारी है और उन पर जल्द काबू पा लिया जाएगा। एएनआई ने सीआरपीएफ के हवाले से बताया कि फिदायीन लेथपोरा स्थित सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स के 185 बटालियन कैंप में लगभग 2 बजे घुसने में कामयाब रहे। आतंकियों ने पहले हैंड ग्रेनेड फेंके और उसके बाद फायरिंग शुरू कर दी। आतंकी एक इमारत में जाकर छिप गए और वहां से गोलीबारी करने लगे। न्यूज़ एजेंसी ने सीआरपीएफ के हवाले से कहा है कि दूसरे कैंपों पर भी ऐसे ही हमले की आशंका है।
लेथपोरा हमले में सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं। घायलों को अस्पताल ले जाया गया है।
-एजेंसी