बंदरों का आतंक: मां से छीन लिया नवजात बेटा, छत से फेंकने पर मौत

आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा में बंदरों के आतंक की खबरें रोज आती हैं। लोगों के हाथों का सामान छीनकर भागने वाली घटनाएं रोज होती हैं लेकिन इस बार बंदर ने नवजात को दूध पिला रही एक मां से उसे छीन लिया और उसे फेंककर मार डाला। घटना सोमवार देर रात की है।
पुलिस ने बताया कि आगरा के रुनकता इलाके में कछारा ठोक कॉलोनी है। यहां पर योगेश का घर है। योगेश ऑटो रिक्शा ड्राइवर हैं। उनकी नेहा से दो साल पहले शादी हुई थी। दोनों के घर में 12 दिन पहले एक नन्हा मेहमान आया था।
नेहा रात में अपने 12 दिन के बच्चे आरुष उर्फ सनी को दूध पिला रही थीं। योगेश ने बताया कि घर का दरवाजा खुला था। तभी एक बंदर अचानक घर के अंदर घुस आया। नेहा कुछ समझ पातीं इससे पहले बंदर ने आरुष को गर्दन से उठा लिया और बाहर की ओर भागा। नेहा भी चिल्लाती हुई बंदर के पीछे भागीं। बंदर भागकर पड़ोसी की छत पर चढ़ गया।
नेहा की आवाज सुनकर लोग घरों से बाहर निकले। सबने बंदर को भगाया तो वह आरुष को वहीं फेंककर भाग गया। नेहा ने बताया कि आरुष की गर्दन से काफी खून बह रहा था। वे लोग उसे पास के प्राइवेट अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। लोगों ने बताया कि आरुष को मारने से पहले बंदर ने इलाके की एक चौदह साल की बच्ची पर भी हमला किया था। बच्ची को भी चोटें आईं हैं।
सब इंस्पेक्टर अतबीर सिंह ने कहा कि बच्चे का शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया था। पोस्टमॉर्टम में बच्चे के सिर और गले में घाव और चोटें मिली हैं। लोगों ने यह भी बताया कि इसी इलाके में कुछ दिनों पहले भी बंदर ने एक नवजात पर हमला किया था। हालांकि उस बच्चे को बचा लिया गया था।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *