केरल में 12 घंटे के भीतर दो राजनेताओं की हत्‍या से तनाव, धारा 144 लागू

केरल के अलप्पुझा में 12 घंटे के भीतर दो राजनेताओं की हत्‍या से महौल में सरगर्मी बढ़ गई है. इनमें से एक सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) के नेता जबकि दूसरे बीजेपी के नेता थे. इसके बाद रविवार कोअलाप्पुझा जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दिया गया है.
मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने दोनों हत्याओं की निंदा की है और कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया है.
उन्होंने कहा, ‘हिंसा के ऐसे जघन्य और अमानवीय कृत्य राज्य के लिए ख़तरनाक़ हैं. मुझे यकीन है कि सभी लोग ऐसे हत्यारे समूहों की पहचान करने और उन्हें अलग-थलग करने के लिए तैयार होंगे.”
केरल में एसडीपीआई के प्रदेश सचिव के. एस. शान पर शनिवार की रात घर लौटते समय हमला हुआ. उनकी बाइक को पहले कार पर सवार लोगों ने टक्कर मारी और फिर उन पर चाकू से हमला कर दिया. हादसे में बुरी तरह से ज़ख़्मी शान ने आधी रात को कोच्चि के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया.
पुलिस के मुताबिक़ इसके कुछ घंटों बाद रविवार सुबह कुछ हमलावरों ने भाजपा के अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) मोर्चा के प्रदेश सचिव रंजीत श्रीनिवास के घर में घुसकर उनकी हत्या कर दी.
एसडीपीआई का आरोप है कि शान की हत्या के पीछे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के एक कार्यकर्ता का हाथ है.
वहीं बीजेपी का कहना है कि श्रीनिवास पर एसडीपीआई से जुड़ी इकाई पीएफ़आई ने बदले के इरादे से हमला किया और उन्हें मौत के घाट उतार दिया.
सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई), पीपल्‍स फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) की राजनीतिक इकाई है.
बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन ने कहा कि यह पिछले 60 दिनों में बीजेपी कार्यकर्ता की तीसरी हत्या है, पीएफआई के गुंडे राज्य को अस्थिर करने की कोशिश कर रहे हैं.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *