ओडिशा में मिले कटे हुए दस हाथ, इलाके में तनाव फैला

जाजपुर। ओडिशा के जाजपुर इलाके में कल दस कटे हुए हाथ बरामद हुए हैं। इस घटना के बाद इलाके में तनाव फैल गया। शुरुआती जांच के बाद पुलिस का कहना है कि ये हाथ 2006 में पुलिस फायरिंग में मारे गए आदिवासियों के हो सकते हैं। मामले की जांच की जा रही है और इलाके में भारी तादाद में पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है।
पुलिस ने बताया कि कालिंगा नगर में स्टील प्लांट के लिए भूमि अधिग्रहण के खिलाफ आदिवासियों ने जनवरी 2006 में प्रदर्शन किया था। इस मामले प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी थी। इस घटना में 13 से ज्यादा आदिवासी मारे गए थे।
हाथों का डीएनए टेस्ट कराने की मांग
मारे गए आदिवासियों का पोस्टमॉर्टम किया गया। पांच के शवों की शिनाख्त नहीं हो पाई थी इसलिए उनके हाथ काटकर उसकी उंगलियों के निशान लिए गए थे। प्रक्रिया पूरी होने के बाद आदिवासियों के परिवारों को ये हाथ दो साल पहले सौंपे गए थे लेकिन उन्होंने इन्हें लेने से इंकार कर दिया था। उन्होंने इन हाथों के डीएनए टेस्ट कराने की मांग की थी इसलिए इन हाथों को एक मेडिकल बॉक्स में क्लब के अंदर रखा गया था।
कौन उठा ले गए मेडिकल बॉक्स?
एसपी सीएस मीना ने बताया कि शनिवार को कुछ शरारती तत्वों ने क्लब की खिड़की तोड़ी और अंदर दाखिल हुए। ये लोग यह मेडिकल बॉक्स उठाकर ले गए थे। इसी बॉक्स में दस हाथ रखे थे। शरारती तत्वों ने इसे जाजपुर में ले जाकर फेंक दिया। स्थानीय लोगों को ये हाथ मिले तो हड़कंप मच गया। आसपास इलाके में तनाव फैलने लगा। भारी पुलिस तैनात करके लोगों पर काबू पाया गया। हालांकि इस मामले में कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »