वर्ल्‍ड कप में भारत ने भेजी अब तक की सबसे बूढ़ी टीम

नई दिल्‍ली। भारत ने विश्व कप में अपनी अब तक की सबसे अनुभवी और उम्रदराज टीम उतारी है। भारतीय टीम की औसत उम्र 29.53 वर्ष है। इसमें महेंद्र सिंह धोनी (37 साल, 319 दिन) सबसे उम्रदराज तो कुलदीप यादव (24 साल, 159 दिन) सबसे युवा खिलाड़ी हैं। विश्व कप में भाग ले रही सभी दस टीमों में भारतीय टीम उम्र के मामले में तीसरे नंबर पर है।

अगर 1975 से अब तक की भारतीय टीमों पर गौर किया जाए तो विराट एंड कंपनी उम्र के मामले में पिछली सभी टीमों को पीछे छोड़ देती है। धोनी की टीम की औसत उम्र थी 28.3 वर्ष : 2011 की इससे पहले भारत ने विश्व कप में सबसे उम्रदराज टीम 2011 में उतारी थी, जिसकी औसत उम्र 28.3 वर्ष थी।

धोनी की अगुआई वाली यह टीम विश्व विजेता बनी थी। 1983 में कपिल देव की अगुआई वाली टीम भी भारत की तब तक की सबसे उम्रदराज (औसत उम्र 27.10) टीम थी। कपिल की टीम भी विजेता बनी थी। 1975 की टीम की औसत उम्र 26.8 और 1979 की टीम की 26.6 वर्ष थी। कपिल की 1987 की टीम की औसत उम्र 26.2 थी।

1992 टीम थी सबसे युवा
मोहम्मद अजहरुद्दीन के नेतृत्व वाली 1992 की टीम की औसत उम्र 25.4 थी जो अब तक की भारत की सबसे युवा टीम थी लेकिन उसका प्रदर्शन निराशाजनक रहा था।

श्रीलंका सबसे उम्रदराज टीम तो बांग्लादेश सबसे युवा
टूर्नामेंट में भाग ले रही सभी दस टीमों में श्रीलंका (29.9 वर्ष) पहले और दक्षिण अफ्रीका (29.5 वर्ष) दूसरे और उसके बाद भारतीय टीम सबसे उम्रदराज है। बांग्लादेश की टीम (औसत उम्र 27.27) सबसे कम उम्र की है। अफगानिस्तान (27.40) भी उससे अधिक पीछे नहीं है। पाकिस्तान की टीम 27.33 वर्ष औसत उम्र के साथ तीसरे स्थान पर है।

300 से अधिक वन-डे खेलने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं धोनी इस विश्व कप में। उन्होंने 341 मैच खेले हैं
1573 वन-डे खेलकर कोहली की टीम सबसे आगे है। बांग्लादेश (1341) इस मामले में दूसरे नंबर पर है
90 सर्वाधिक शतक भारतीय खिलाड़ियों के नाम हैं। इनमें से कोहली के (41) रोहित के (22) और धवन के (16) हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »