राजीव इंटरनेशनल स्कूल में किया गया शिक्षकों का अभिनन्दन

मथुरा। इस बार शिक्षक दिवस रविवार को पड़ने की वजह से राजीव इंटरनेशनल स्कूल (Rajiv International School) के छात्र-छात्राओं ने शनिवार को ही विविध नयनाभिराम सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच अपने गुरुजनों का अभिनंदन किया और उनसे आशीष प्राप्त किया। कार्यक्रम का शुभारम्भ स्कूल की शैक्षिक संयोजिका प्रिया मदान द्वारा डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन एवं विद्या की आराध्य देवी मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया।

शनिवार को राजीव इंटरनेशनल स्कूल में सुबह से ही उत्सवी माहौल रहा। इस बार पूर्व राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिन रविवार को पड़ने की वजह से छात्र-छात्राओं ने एक दिन पहले ही शिक्षक दिवस मनाने का निर्णय लिया। इस अवसर पर छात्र-छात्राओं ने डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के छायाचित्र पर पुष्प अर्पित करते हुए विविध सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किए तथा अपने गुरुजनों का अभिनंदन किया।

छात्र-छात्राओं ने जहां शिक्षक बनकर अपने गुरुजनों का अनुसरण करने का प्रयास किया वहीं नृत्य, गायन तथा विभिन्न प्रकार के खेलों के माध्यम से शिक्षकों का खूब मनोरंजन किया। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य शिक्षकों के सम्मान के साथ आपसी सामंजस्य को और सुदृढ़ करना था। कार्यक्रम का संचालन अनुष्का शर्मा, अर्णव शर्मा, चंचल राघव, शरद चौहान, अदिति अग्रवाल तथा सक्षम लाहौटी द्वारा किया गया।

आर.के. एज्यूकेशनल ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल ने अपने संदेश में कहा कि जीवन में शिक्षक दिवस का महत्वपूर्ण स्थान है। छात्र-छात्राओं की हर गलती को क्षमा करने की भावना रखने तथा हर विद्यार्थी की कमजोरी को दूर कर उसे सफलता की ओर ले जाने वाला ही सच्चा शिक्षक होता है। डॉ. अग्रवाल ने गुरुजनों को शिक्षक दिवस की बधाई देते हुए कहा कि शिक्षक होना अपने आप में गर्व की बात है। जहां माँ अपने बच्चों को संस्कारवान बनाती है वहीं शिक्षक बच्चों को शिष्टाचार सिखाते हैं और उनका बौद्धिक विकास करते हैं।

स्कूल के प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल ने कहा कि गुरु का दर्जा सबसे बड़ा है क्योंकि वह न केवल शिक्षा देते हैं बल्कि अच्छे गुणों का विकास भी करते हैं। हमें एक अच्छा इंसान, समाज का बेहतर सदस्य और राष्ट्र का आदर्श नागरिक बनने में शिक्षक ही मदद करते हैं। शैक्षिक संयोजिका प्रिया मदान ने डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए सभी को शिक्षक दिवस की बधाई देते हुए कहा कि बदलते परिवेश में शिक्षक का कार्य और अधिक विस्तृत हो गया है।

– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *