भूषण स्टील के सभी 5000 कर्मचारियों को बनाए रखेगा TATA

कोलकाता। कर्ज में डूबी देश की दिग्गज इस्पात कंपनी भूषण स्टील का अधिग्रहण करने के साथ ही TATA स्टील ने उसके 5,000 एंप्लॉयीज को भी ‘जीवनदान’ देने का फैसला लिया है। TATA स्टील की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि रिजॉलूशन प्लान के तहत भूषण स्टील के सभी 5,000 कर्मचारियों को हम बनाए रखेंगे। भूषण स्टील को लेकर कंपनी के प्लान की जानकारी देते हुए TATA स्टील के मैनेजिंग डायरेक्टर टीवी नरेंद्रन ने कहा, ‘भूषण स्टील की फिलहाल 3 से 3.5 मीट्रिक टन के उत्पादन की क्षमता है। हम जल्दी ही और आसानी से इस क्षमता को बढ़ाकर 4 से 4.5 मीट्रिक टन तक बढ़ाने की योजना में हैं।’
कर्ज में डूबी भूषण स्टील के अधिग्रहण के लिए TATA स्टील की बोली को नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल ने अपनी मंजूरी दे दी है। हालांकि नरेंद्रन ने कहा कि भूषण स्टील के उत्पादन को 5 मीट्रिक टन तक ले जाने के लिए और अधिक निवेश की जरूरत होगी। लेकिन इसे आसानी से 5 से 8 मीट्रिक टन तक ले जाया जा सकता है। कंपनी के नतीजों का ऐलान के दौरान पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि हमने अपने रिजॉलूशन प्लान में भूषण स्टील के सभी 5,000 एंप्लॉयीज को बनाए रखने का फैसला लिया है।
बता दें कि TATA स्टील को भूषण स्टील की ओडिशा स्थित यूनिट में निचले स्तर पर वर्कर्स का विरोध झेलना पड़ रहा है। यहां कॉन्ट्रैंक्ट पर काम करने वाले कर्मचारियों का कहना है कि प्रस्तावित अधिग्रहण के चलते उनकी जॉब छिन सकती है। ऐसे में माना जा रहा है कि TATA स्टील का यह बयान भूषण के एंप्लॉयीज की चिंताओं के मद्देनजर आया है। भूषण स्टील के अधिग्रहण को लेकर फंडिंग के सवाल पर नरेंद्रन ने कहा, ‘यह पूरा अधिग्रहण 35,000 करोड़ रुपये का होगा। इसके लिए हमने 18,000 करोड़ रुपये की अपनी पूंजी लगाई है और बकाया राशि के लिए कर्ज लिया जाएगा।’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »